ज़िला चिकित्सालय में महिला हुई हवस का शिकार, अपना बन लूटी अस्मत

Updated on: 20 October, 2019 12:36 PM
बनारस। पंडित दीनदयाल ज़िला चिकित्सालय में रविवार की रात हवस के पुजारी ने एक तीस वर्षीय महिला को अपनी हवस का शिकार बना लिया। महिला यहां यूवक के झांसे में आकर अपनी बुआ के साथ आयी थी। जहां उसने बड़ी ही सफाई से पहले उनके ज़ेवर उतरवाकर अपने पास रख लिए फिर भतीजी को अस्पताल के अंदर बने शौचालय में ले जाकर रेप किया। रेप के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम सीसीटीवी फुटेज के सहारे अभियुक्त को तलाश कर रही है। सीसीटीवी फुटेज में आरोपी महिला के साथ अस्पताल में जाता दिखाई दे रहा है। इस सम्बन्ध में पीडीता की बुआ राधा ( बदला हुआ नाम ) ने बताया कि ” मैं और मेरी भतीजी कल्पना ( बदला हुआ नाम) रविवार की सुबह जौनपुर के बदलापुर से जाफराबाद आने के लिए बस में सवार हुए। जहां बस में हमें युवक मिला जो हमसे बातचीत करने लगा और बातचीत में हमारे घर का विवरण बताने लगा। जिससे हम उससे बात करने लगे रस्ते में ही उसने हमसे कहा कि मेरे बेटे की जॉब पंडित दीनदयाल अस्पताल बनारस में लग गयी है अगर आप साथ चलिए तो आप को काल लेटर दिलवा दूंगा। उस यूवक के झांसे में आकर हम दोनों यहां आगये। यहां पहुँचने पर उसने हमसे कहा कि अंदर बड़े साहब के पास जाना है और वो कही नाराज़ न हो जाएं इसलिए आप लोग अपने गहने उतार दीजिये। उसके झांसे में आकर हमने अपनी ज़ेवर उतारकर उसके रूमाल में रख दिया। उसके बाद वह मेरी भतीजी कल्पना को लेकर अंदर चला गया और मुझे अस्पताल के गेट पर ही बैठा दिया । कुछ ही देर बाद भतीजी रोते हुए हॉस्पिटल से बाहर आयी तो उसने बताया की उक्त यूवक ने उसके साथ अस्पताल के बाथरूम में बलात्कार किया और गहने वाला रूमाल लेकर फरार हो गया। अस्पताल परिसर में जब ये दोनों औरते रोने लगी तो हॉस्पिटल स्टाफ ने इसने जानकारी लेने के बाद 100 नम्बर पर डायल करके पुलिस को बुलाया। मौके पर कैंट थाने की फ़ोर्स और क्राइम ब्रांच की टीम पहुंची और दोनों बुआ भतीजी से आवश्यक जानकारी इकठ्ठा कर आरोपी की तलाश में लग गयी है। इस सम्बन्ध में पुलिस अधिकारियों ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया