मीट निर्यातक मोइन कुरैशी की मदद करने वाले Ex CBI निदेशक पर FIR

Updated on: 14 November, 2019 05:29 AM

सीबीआई ने सोमवार को भ्रष्टाचार और हवाला मामले में मांस निर्यातक मोइन कुरैशी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। उनकी मदद के आरोप में जांच एजेंसी ने अपने पूर्व प्रमुख एपी सिंह समेत तीन लोगों पर भी मामला दर्ज किया है। सीबीआई ने इनके दिल्ली, गाजियाबाद, चेन्नई और हैदराबाद स्थित ठिकानों पर छापे भी मारे।

अहम दस्तावेज बरामद :

सूत्रों का कहना है कि कुरैशी और सिंह के अलावा हैदराबाद के कारोबारी प्रदीप कुनेरू तथा कुरैशी की कंपनी के कर्मचारी आदित्य शर्मा का नाम भी एफआईआर में है। सीबीआई ने अपने पूर्व निदेशक के दक्षिणी दिल्ली आवास, आदित्य शर्मा के गाजियाबाद और प्रदीप कुनेरू के हैदराबाद स्थित आवास समेत कुरैशी के ठिकानों पर छापेमारी की और वहां से अहम दस्तावेज बरामद किए। कुनेरू का नाम वाईएसआर कांग्रेस नेता जगनमोहन रेड्डी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति मामले भी आया था।

हवाला से रुपये भेजे :

सूत्रों का कहना है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मोइन कुरैशी के खिलाफ नवंबर माह में शिकायत दी थी। इसमें कहा गया कि कुरैशी कुछ खास लोकसेवकों के लिए लोगों से रकम एकत्र करता था। इतना ही नहीं उसने टैक्स चोरी कर बचाई गई करोड़ों की रकम को हवाला के जरिए कई देशों में भेजा है।

संबंधों की जांच होगी :

सूत्रों का कहना है कि कुरैशी और लोकसेवकों के बीच के संबंधों की जांच की जाएगी क्योंकि ईडी की ओर से जो शिकायत मिली है, उसमें गंभीर आरोप लगाए गए हैं। कुरैशी के खिलाफ ईडी और आयकर विभाग की तरफ से पहले ही कई मामले दर्ज हैं। सुप्रीम कोर्ट में कोयला घोटाले पर सुनवाई के दौरान आयकर विभाग ने बताया था कि कुरैशी के सीबीआई के पूर्व निदेशक एपी सिंह से रिश्ते थे।

विवादों में रहे



197 बैच के आईपीएस एर्पी ंसह नवंबर 2010 से 30 नवंबर 2012 तक सीबीआई प्रमुख थे। कुरैशी से संबंधों के कारण सिंह को 2015 में यूपीएससी से इस्तीफा देना पड़ा था। दोनों के बीच ब्लैकबेरी फोन पर संदेशों का आदान प्रदान होता था।

200 करोड़ के हवाला मामले में कार्रवाई

04 शहरों में जांच एजेंसी ने छापामारी की

फरार है



उत्तर प्रदेश के रामपुर से मांस कारोबार की शुरुआत करने वाले मोइन कुरैशी के कई हाईप्रोफाइल लोगों से संबंध हैं। वह अक्तूबर 2016 में इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर अधिकारियों को झांसा देकर फरार हो गया था।


ये भी घेरे में



पूर्व सीबीआई प्रमुख रंजीत सिन्हा भी कुरैशी से संबंधों को लेकर जांच के घेरे में हैं। सीबीआई प्रमुख रहते उनकी कुरैशी से कई बार मुलाकात हुई। उनके घर की विर्जिंटग डायरी में 90 से ज्यादा बार मोइन का नाम था।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया