चक्का जामः थर्ड पार्टी बीमा प्रीमियम बढ़ने से हड़ताल पर गए ट्रक चालक

Updated on: 22 November, 2019 05:01 PM

देशभर के ट्रक चालकों ने थर्ड पार्टी बीमा के प्रीमियम में वृद्धि के खिलाफ शनिवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है। हड़ताल के कारण जरूरी सामान की आपूर्ति बाधित होने की आशंका है।
ऑल इंडिया कन्फेडरेशन ऑफ गुड्स व्हिकल्स ओनर्स एसोसिएशन (एसीओजीओ) के अध्यक्ष चन्ना रेड्डी ने कहा कि मारे पास हड़ताल पर जाने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं है। दक्षिणी राज्यों में 35 लाख ट्रक सड़कों से दूर रहेंगे।
साउथ इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन पहले ही गुरुवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जा चुका है और अब एसीओजीओ भी इसमें शामिल हो गया है। इतना ही नहीं, ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) और बॉम्बे गुड्स ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन भी 20 अप्रैल से इस आंदोलन में शामिल हो जाएंगे।
एआईएमटीसी के अध्यक्ष एस.के. मित्तल ने कहा कि ट्रक चालकों ने बीमा नियामक से हर वर्ग के वाहनों का रीयल टाइम डाटा मांगा है, लेकिन यह नहीं दिया गया।
दुनियाभर में 30 करोड़ लोग डिप्रेशन के शिकार, 5 करोड़ भारतीय भी
मित्तल ने साथ ही कहा कि भारतीय बीमा नियामक विकास प्राधिकरण (आईआरडीएआई) ने शुरुआत में थर्ड पार्टी बीमा में 50 प्रतिशत वृद्धि का प्रस्ताव रखा था, लेकिन बाद में इसमें 41 प्रतिशत वृद्धि कर दी गई, जिसे शनिवार से लागू करने की बात कही गई।
काम की 10 बातें: आज से बदले कई नियम, नहीं जानेंगे होगा नुकसान
फेडरेशन ऑफ वेस्ट बंगाल ट्रक ऑपरेटर्स एसोसिएशन (एफडब्ल्यूबीटीओए) के संयुक्त सचिव सजल घोष ने कहा कि जब तक आईआरडीएआई थर्ड पार्टी बीमा प्रीमियम वृद्धि का अपना फैसला वापस नहीं लेती पूरे भारत के ट्रक चालक न्याय के लिए लड़ाई जारी रखेंगे।
घोष ने साथ ही कहा कि पश्चिम बंगाल के कम से कम 20 जिला स्तरीय एसोसिएशन शनिवार से शुरू होने वाली अनिश्चितकालीन देशव्यापी हड़ताल में शामिल हो रहे हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया