योगी के तेवरः UP में लागू होगा सिटीजन चार्टर, सख्ती से पालन कराया जाएगा

Updated on: 20 June, 2019 11:32 PM

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उनकी सरकार प्रदेश में सिटीजन चार्टर लागू करेगी, जिसे सभी को मानना होगा। इसका सख्ती से पालन कराया जाएगा।
उन्होंने डीडी न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में एक सवाल के जवाब में कहा कि सत्ता योगियों के लिए है भोगियों के लिए नहीं है। पीएम नरेंद्र मोदी इसके मिसाल हैं। उनके आने से जनता में विश्वास बढ़ा है।
उन्होंने कहा कि एंटी रोमियो स्क्वॉड का किसी धर्म और जाति से कोई संबंध नहीं है। उनका मकसद ऐसा वातावरण देना चाहते हैं कि माताएं-बहनें या लड़कियां किसी भी समय बिना भय के अपने घर से बाहर कहीं भी आ जा सकें। मनचलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून का राज होगा। मैं या कोई भी कानून को तोड़ेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। अपराधी का जाति या मजहब नहीं देखा जाएगा, सब पर समान कार्रवाई होगी।
सीएम ने कहा कि अगर किसी भी अस्पताल में स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी के कारण किसी भी बच्चे की मौत होती है तो इसके लिए जिला चिकित्साधिकारी सीधे तौर पर जिम्मेदार होंगे।
उन्होंने ने कहा कि अगर भूख के कारण कोई मौत होती है तो उसे क्षेत्र का जिलाधिकारी इसके लिए जिम्मेदार होगा।
जीएसटी पर उन्होंने कहा कि बूचड़खानों को भी इसके दिशा निर्देश मानने की जरूरत है। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार जल्द ही पूरे राज्य में गेहूं की खरीद के लिए 5000 क्रय केंद्र खोले जाएंगे।
उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों का बकाया 40 दिनों के अंदर चीनी मील मालिकों ने नहीं दिया तो फिर उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।
योगी का यह इंटरव्यू बुधवार को प्रसारित किया गया था।
उत्तर प्रदेश की नए मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में प्रदेश की जनता के हित में कई फैसले लिए। इनमें सबसे पहले उन्होंने किसानों के कर्ज माफी वाले वादे को पूरा किया है। आपको बता दें कि भाजपा ने अपने चुनाव घोषणापत्र में इसका वादा किया था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी हर चुनावी सभा में जनता को भरोसा दिलाया था कि प्रदेश में पार्टी की सरकार बनने के बाद कैबिनेट की पहली ही बैठक में प्रदेश का सांसद होने के नाते वे किसानों का कर्ज माफ करवाएंगे। पहली कैबिनेट बैठक नवमी के मौके पर हुई है और सरकार ने इस बैठक में नौ फैसले लिए।
1-लघु और सीमान्त किसानों का एक लाख रुपये तक का कर्ज माफ, 2.15 करोड़ किसानों को मिलेगा फायदा
2-गेहूं खरीदने के लिए पूरे प्रदेश में पांच हजार खरीद केन्द्रों को मंजूरी
3-एंटी रोमियो दस्ते पर मुहर लेकिन निर्दोषों का उत्पीड़न हुआ तो दस्ते पर भी कार्रवाई
4- आलू किसानों को राहत देने के लिए केशव मौर्य की अध्यक्षता में समिति
5- नई उद्योग नीति बनेगी
प्रदेश में पूंजीनिवेश हो, उद्योग आएं और युवाओं को रोजगार मिले, इसके लिए डॉ. दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में समिति
6-अवैध खनन रोकने के लिए मंत्री समूह का गठन
7-गाजीपुर में अंतरराष्ट्रीय स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स को मंजूरी
8-अवैध बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई पर मुहर
9- पिछड़े वर्गों के लिए राष्ट्रीय आयोग के गठन और उसे संवैधानिक संस्था का दर्जा देने के मोदी सरकार के फैसले पर धन्यवाद प्रस्ताव मंजूर

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया