काबुल हमला: भारतीय दूतावास के पास कार बम विस्फोट, 80 लोगों की मौत, 350 लोग घायल

Updated on: 17 November, 2019 02:38 PM

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में बुधवार सुबह जबरदस्त कार बम विस्फोट होने की खबर है। बताया जा रहा है कि यह विस्फोट भारतीय दूतावास के पास हुआ। अफगान स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि इस हमले में कम से कम 80 लोगों की मौत हुई जबकि 350 से ज्यादा लोग घायल है। हमला सुबह के व्यस्त समय में हुआ। घटनास्थल पर शव बिखरे पड़े थे और क्षेत्र से घना धुंआ निकल रहा था। इस इलाके में कई देशों के दूतावास हैं। विस्फोट के बाद कई मिशनों और घटनास्थल से सैकड़ों मीटर दूर स्थित घरों की खिड़कियों के कांच टूट गए।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दर्जनों कारें सड़क पर ही फंस गईं क्योंकि घायल लोग और घबराई स्कूली छात्राएं सुरक्षा के लिए उनकी आड़ ले रहे थे जबकि अपने प्रियजनों को खोजने के लिए महिलाएं और पुरूष सुरक्षा जांच से निकलने के लिए संघर्ष कर रहे थे। अधिकारियों ने कहा कि मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है।हमले का निशाना क्या था, अभी यह साफ नहीं है। लेकिन हमले ने अफगानिस्तान में बढ़ती असुरक्षा को रेखांकित किया है। देश का एक तिहाई हिस्सा सरकार के नियंत्रण से बाहर है। हमले को एक घंटे से ज्यादा वक्त बीत चुका है लेकिन एंबुलेंस अभी भी घायलों को अस्पताल ले जा रही हैं और दमकलकमीर् इमारतों में लगी आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय के वरिष्ठ प्रवक्ता इस्माइल कावोसी ने एएफपी से कहा, वे अभी भी शवों और घायलों को लेकर अस्पताल आ रहे हैं। गृह मंत्रालय ने काबुल के लोगों से रक्तदान करने का अनुरोध करते हुए कहा है कि अस्पतालों की इसकी बेहद जरूरत है। हमले की जिम्मेदारी तत्काल किसी ने नहीं ली है लेकिन फिर से सिर उठा रहा तालिबान अपने हमले तेज कर रहा है। अफगानिस्तान की राजधानी में हाल में हुए कई बम विस्फोटों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली है। इसमें तीन मई को नाटो के बख्तरबंद काफिले को निशाना बनाकर किया गया शक्तिशाली बम विस्फोट भी शमिल है जिसमें कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई थी जबकि 28 लोग घायल हो गए थे।

स्पेन दौरे में गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काबुल में हुए विस्फोट की कड़ी निंदा की और कहा कि आतंकवाद का समर्थन करने वाली ताकतों को हराने की आवश्यकता है।

दूतावास के सभी कर्मचारी सुरक्षित: सुषमा स्वराज
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि काबुल में हुये जबरदस्त बम विस्फोट में भारतीय दूतावास के किसी भी कर्मचारी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।

काबुल में विदेशी दूतावासों वाले इलाके में आज हुये कार बम विस्फोट के कुछ ही देर बाद स्वराज ने ट्वीट किया, 'भगवान का शुक्र है कि काबुल में हुये विस्फोट में भारतीय दूतावास के सभी कर्मचारी सुरक्षित हैं।'   

गौरतलब है ​कि मार्च 2016 में जलालाबाद में मौजूद भारतीय वाणिज्य दूतावास के पास हुए धमाकों में कम से कम सात लोगों की मौत हो गई थी। वहां हुए दो धमाकों में दो नागरिकों के भी मारे गए थे।

सुरक्षा बलों से हुई मुठभेड़ और विस्फोट में शामिल दो आत्मघाती हमलावर और चार बंदूकधारी भी मारे गए थे।

जलालाबाद: भारतीय वाणिज्य दूतावास के पास फिदायीन हमले में 3 की मौत, सभी आतंकी ढेर
गौरतलब है ​कि मार्च 2016 में जलालाबाद में मौजूद भारतीय वाणिज्य दूतावास के पास हुए धमाकों में कम से कम सात लोगों की मौत हो गई थी। वहां हुए दो धमाकों में दो नागरिकों के भी मारे गए थे।

सुरक्षा बलों से हुई मुठभेड़ और विस्फोट में शामिल दो आत्मघाती हमलावर और चार बंदूकधारी भी मारे गए थे।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया