जब राजनाथ सिंह ने प्रोटोकॉल तोड़ बहादुर BSF जवान को लगाया गले

Updated on: 09 July, 2020 09:32 AM

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने प्रोटोकोल तोड़ते हुए सीमा सुरक्षा बल के एक जवान को गले से लगा लिया। सिंह ने गुरुवार को बीएसएफ के अलंकरण समारोह में वीरता मेडल से सम्मानित किए गए बीएसएफ के उस जवान को गले लगाया, जो कश्मीर में आतंकरोधी अभियान के दौरान 85 फीसदी से अधिक शारीरिक अक्षमता का शिकार हो गए थे। बीएसएफ का कांस्टेबल गोधराज मीणा जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में 2014 में आतंकियों के हमले में घायल हो गए थे।

मीणा 5 अगस्त 2014 को उस बस में सवार थे जो सीमा सुरक्षा बल की टुकड़ी को ले जा रही थी। नरसू नाला क्षेत्र में अचानक आतंकियों ने जबर्दस्त गोलीबारी शुरू कर दी थी। उस समय बस में 30 जवान सवार थे। आतंकियों की एक गोली मीणा के जबड़े को आरपार कर गई, इसलिए वह ठीक से बोल पाने में भी असमर्थ हैं। मेडल लगाते हुए गृहमंत्री ने उन्हें सीने से लगा लिया और उनकी पीठ थपथपाई। जिसे देख वहां मौजूद जवानों और अधिकारियों ने जोरदार तालियां बजाई।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया