कानपुर देहात में सड़क हादसा, बच्चे समेत 3 लोगों की मौत

Updated on: 25 August, 2019 01:10 PM

कानपुर-कालपी रोड पर गुरुवार की सुबह अनियंत्रित हुई तेज रफ्तार जाइलो कार ने एक बच्चे समेत तीन लोगों की जान ले ली। सड़क पर बुरी तरह लहराने के बाद कार ने किनारे स्थित मकान, ईंटों की दीवार और हैंडपंप को तोड़ डाला। रफ्तार थमी तो चौरा स्टेशन रोड पर उसके पहिए रुके। इस दौरान घर के किनारे खड़े बच्चे और दूधिए को उसने कुचल दिया।

कार सवार युवक की भी मौत हुई। हादसे में चार लोग घायल भी हुए हैं। लखनऊ की आशियाना कॉलोनी के मकान नंबर एम-2/195 में रहने वाले अजय कुमार टंडन (40) पुत्र पुरुषोत्तम दास टंडन पत्नी रचना (36), बेटी सिमी (16) व बेटे रवि (10) को लेकर जाइलो कार से लखनऊ से कोटा जा रहे थे। बताते हैं अजय बेटी सिमी का दाखिला कराने के लिए कोटा के लिए निकले थे। कार हरदोई के गांव मतुवा निवासी मो. इसराक (60) पुत्र मो. अली ड्राइव कर रहे थे।

सुबह करीब आठ बजे भोगनीपुर पार करने के बाद इनकी कार चौरा गांव के पास पहुंची थी कि ड्राइवर ने कार पर नियंत्रण खो दिया। वह उसे नियंत्रित कर पाता, इसके पहले ही कार सड़क पर बुरी तरह लहराई। कार सवार लोग मदद के लिए चीखने चिल्लाने लगे। कुछ ही पलों में कार सड़क के किनारे उतर गई।

इसके बाद उसका रुख सड़क किनारे स्थित धर्मेंद्र सिंह के घर की तरफ हो गया।  वहां सुबह का दूध लेने आए धर्मेंद्र सिंह के दस साल के बेटे क्षितिज को उसने जोरदार टक्कर मारी। प्रत्यक्ष दर्शियों के मुताबिक तेज टक्कर से क्षितिज कई मीटर दूर जाकर गिरा। उसकी मौके पर मौत हो गई। दूध देने को आए  मूल रूप से लहरापुर गांव के निवासी दूधिए जानकी प्रसाद (45) पुत्र युवराज को भी कार ने कुचल कर मार डाला। कार की रफ्तार अभी भी कम नहीं हुई।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया