US से PAK को झटका: सैन्य मदद को नहीं मिलेंगे 30 अरब डॉलर

Updated on: 16 October, 2019 06:00 AM

अमेरिका रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने पाकिस्तान को बड़ा झटका दिया है। पेंटागन ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सैन्य सहायता राशि (300 मिलियन यूएस डॉलर) देने से इनकार कर दिया है।

अमेरिकी रक्षा सचिव एश कार्टर ने जब अमेरिकी कांग्रेस को पाकिस्तान द्वारा आतंकी संगठन हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ की जाने वाली कार्रवाई को बताने से इनकार कर दिया तो सरकार ने अमेरिका को दी जाने वाली 300 मिलियन डॉलर यानी 30 अरब डॉलर की आर्थिक सहायता देने से इनकार कर दिया।

खबरों के अनुसार, पेंटागन के प्रवक्ता ने मीडिया को बताया कि रक्षा सचिव यह नहीं साबित कर पा रहे कि पाकिस्तान आतंकवाद (हक्कानी नेटवर्क) के लिए खिलाफ कोई ठोस एक्शन ले रहा है। इसलिए पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता रोकी जा रही है। 300 मिलियन डॉलर की सहायता राशि पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए दी जानी थी।

पेंटागन के आंकड़ों मुताबिक अमेरिका 2002 से अब तक पाकिस्तान को 14 बिलियन डॉलर दे चुका है। लेकिन अब अमेरिका पाकिस्तान के खिलाफ सख्ती बरतने के मूड में है।

आतंकवाद से हो रही पाक की बार बार बेइज्जती
ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब पाकिस्तान को आतंकियों को पनाह देने की वजह से अमेरिका ने उसे झटका दिया हो। बल्कि इससे पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका की एक वित्तीय समिति को सलाह दी थी कि पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक मदद को कर्ज में तब्दील कर दिया जाए।

इतना ही नहीं आतंकावाद का अड्डा बनने के कारण पाकिस्तान को बार बेइज्जती का सामना करना पड़ता है। अभी कुछ सप्ताह पहले डोनाल्ट ट्रंप संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा की थी। यहां ट्रंप से मिलने पाकिस्तान के राष्ट्रपति नवाज शरीफ भी पहुंचे थे लेकिन उन्हें यहां ट्रंप के साथ मंच पर भी नहीं खड़ा होने दिया गया। इस घटना को लेकर पाकिस्तान मीडिया में भी खूद शरीफ की किरकिरी हुई और इसे मुल्क का अपमान बताया गया।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया