राज्यसभा: उपराष्ट्रपति नायडू की तारीफ में पीएम मोदी ने पढ़ी शायरी, "जहां से गुजरें तुम्हारी नजरें, उधर से तुम्हें सलाम आए"

Updated on: 22 November, 2019 09:25 AM

शुक्रवार को देश के नए उप-राष्ट्रपति वैंकेया नायडू ने अपने पद की शपथ ली। शपथ लेने के बाद नायडू बतौर सभापति राज्यसभा पहुंचे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनका स्वागत किया। पीएम मोदी ने कहा आजादी के बाद जन्म लेने वाले वैंकेया नायडू देश के पहले उप-राष्ट्रपति हैं और वह राज्यसभा की कार्यवाही को काफी अच्छे से समझते हैं।  पीएम मोदी ने अपने स्वागत भाषण के अंत में शेर पढ़ा और कहा, 'अमल करो ऐसा सदन में जहां से गुजरें तुम्हारी नजरें, उधर से तुम्हें सलाम आए।'

सदन को बेहतरी से समझते हैं उप-राष्ट्रपति
पीएम मोदी ने वैंकेया नायडू का स्वागत करने के बाद कहा कि वैंकेया नायडू किसान, खेत और खलिहान की समस्या को काफी अच्छे तरह से समझते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि वह देश के पहले ऐसे उप-राष्ट्रपति हैं जो आजादी के बाद जन्मे हैं। उनका कहना था कि उप-राष्ट्रपति नायडू राज्यसभा में काफी लंबे समय तक रहे हैं और ऐसे में वह इस सदन की कार्यवाही को काफी अच्छी तरह से समझते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का तोहफा देश को किसी ने दिया तो वह वैंकेया नायडू हैं।

विपक्ष ने भी किया नए उप-राष्ट्रपति का स्वागत
विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने भी राज्यसभा में नए सभापति और उप-राष्ट्रपति वैंकेया नायडू का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि इस बात की पूरी उम्मीद है कि नए उप-राष्ट्रपति राज्यसभा की परंपरा को आगे बढ़ाएंगे के कोई भी बिल शोरगुल में पास नहीं होना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि आखिरकार एक गरीब परिवार से आए व्यक्ति ने उप-राष्ट्रपति पद की शपथ संभाली और इस बात के लिए वह भारत के संविधान को सलाम करते हैं। वहीं तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने भी नए उप-राष्ट्रपति वैंकेया नायडू का अपनी पार्टी की तरफ से स्वागत किया।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया