दिल्ली के बवाना से AAP ने कांग्रेस को 17000 वोटों से हराया, गोवा में पर्रिकर-राणे जीते

Updated on: 12 November, 2019 10:15 AM

देश के अलग-अलग राज्यों की चार विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे आने लगे है। सबसे पहला नतीजा गोवा के पणजी में आया। यहां गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने चुनाव जीत लिया है। उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार को 4500 वोटों से हराया। वहीं दूसरी ओर दिल्ली की बवाना सीट पर कांटे की टक्कर दिख रही है। यहां  पहले कांग्रेस तो अब आम आदमी पार्टी आगे दिख रही है। उधर गोवा की वालपोई सीट भी भाजपा के खाते में गई है। 

लाइव अपडेट्स

12: 20 PM- दिल्ली की बवाना सीट से आप उम्मीदवार 17 हजार वोटों से जीता। कांग्रेस दूसरे और बीजेपी तीसरे स्थान पर

11.35AM: बवाना उपचुनाव में आप को बढ़त, 40402 के साथ पहले स्थान पर, कांग्रेस 25187 के साथ दूसरे और बीजेपी 22750 के साथ तीसरे स्थान पर।
11.15AM: TDP 36880 वोटों के साथ आगे, YSRCP 201483 और कांग्रेस 461 वोटों पर।

10.35AM:  कांग्रेस ने 20914 वोटों के साथ बना रखी है बढ़त, आप 20785 और बीजेपी 15346 पर।

10.25AM: बवाना उपचुनाव में दसवें राउंड के बाद  कांग्रेस फिर आगे (19387) आप दूसरे  (19095) और बीजेपी तीसरे स्थान पर( 14136)

10.17AM: नंदयाल सीट से 8वें राउंड की गिनती के बाद टीडीपी को 31117 और  YSRCP - 17,955,  कांग्रेस- 278 वोट मिले।

10.12AM: आंध्र प्रदेश के नंदयाल सीट से 5वें राउंड के बाद टीडीपी के भुमा ब्रम्हानंद रेड्डी 13,162 वोटों से आगे

10.05AM; गोवा की वालपोई सीट से भाजपा के विश्वजीत राणे 10,066 वोटों से जीते।

10.00AM:  दिल्लीः बवाना में आठवें की गिनती के बाद आम आदमी पार्टी को मिली बढ़त, कांग्रेस दूसरे और बीजेपी तीसरे नंबर पर

9.55AM: दिल्ली की बवाना सीट से सातवें चरण के बाद आप 12740, बीजेपी 10645 और कांग्रेस 14791 पर।

9.40 AM: दिल्ली की बवाना सीट पर पांचवें चरण में 11097 वोटों के साथ कांग्रेस आगे, बीजेपी को 8511 वोट और आप को 7204 वोट।

9.35AM: मनोहर पर्रिकर 4803 वोटों के अंतर से पणजी उपचुनाव जीते

9.20AM: पहले चरण में मनोहर पर्रिकर 4290 वोटों के साथ आगे, कांग्रेस को गिरीश चोडांकर को 2252 वोट।

9.00 AM: नंदया उपचुनाव में 250 पोस्टल वोट्स में से 39 वोट अमान्य, YSRCP और TDP को कोई पोस्टल वोट नहीं।

8.50AM: आंध्र प्रदेश, के नंदया सीट से तेलुगू देशम पार्टी 5474 वोटों के साथ आगे, YSR कांग्रेस पार्टी को 4179 वोट
8.40AM: कांग्रेस उम्मीदवार सुरेंद्र कुमार पहले चरण में 2108 वोटों से आगे।  आप के राम चंदर को 1906 और बीजेपी को 1687 वोट।

गोवा की दोनों सीटों पर भाजपा का कब्जा

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्किर के पणजी और स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे के वालपोई में जीत हासिल करने के साथ ही सत्तारूढ़ भाजपा ने गोवा की इन दोनों विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में आज जीत प्राप्त कर ली। भाजपा के लिए इन दोनों सीटों पर जीत हासिल करना आवश्यक था क्योंकि 40 सदस्यीय विधानसभा में उसे अपने दम पर बहुमत हासिल नहीं है।

फरवरी में विधानसभा चुनाव के बाद पर्किर केंद्र से राज्य वापस आए थे। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी एवं कांग्रेस उम्मीदवार गिरीश चोडानकर को 4,803 मतों से हराकर पणजी विधानसभा उपचुनाव में जीत हासिल की। अंतिम चुनाव परिणामों की आज सुबह की गई घोषणा के अनुसार पर्किर को 9,862 और चोडानकर को 5,059 मत मिले। गोवा सुरक्षा मंच के अध्यक्ष आनंद शिरोडकर को मात्र 220 मत मिले और 301 लोगों ने उपरोक्त में से कोई नहीं (नोटा) का बटन दबाया। इस सीट के उपचुनाव के लिए मतदान 23 अगस्त को हुआ था।

गोवा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चोडानकर पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के निकट सहयोगी हैं। वर्ष 1994 से पणजी विधानसभा सीट से चुने जा रहे पर्किर ने रक्षा मंत्री के तौर पर केंद्रीय कैबिनेट में शामिल होने के लिए नवंबर 2014 में इस्तीफा दे दिया था। भाजपा नेता सिद्धार्थ कुनकोलिनकर ने इसके बाद हुए पणजी उपचुनाव में जीत हासिल की थी और वह 2017 चुनाव तक इस सीट पर बने रहे। उन्होंने मार्च में राज्य में लौटे और गठबंधन सरकार बनाने वाले पर्किर के विधायक चुने जाने के लिए इस्तीफा दे दिया थ।
 

पर्रिकर ने कहा कि वह उन्हें मिली जीत से अंतर से खुश हैं। उन्होंने कहा कि उनके प्रदर्शन और लोगों के साथ उनके जुड़ाव के कारण उन्हें यह जीत मिली। उन्होंने कहा कि मैं पणजी के लोगों का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझे चुना। यह वर्ष 2012 में हुए विधानसभा चुनाव का दोहराव है। चोडानकर ने कहा कि वह पणजी के लोगों के प्यार एवं स्नेहे के लिए उनके आभारी हैं। उन्होंने कहा कि मैं भले ही हार गया हूं लेकिन मैंने पणजी के लोगों के दिलों में जगह बनाई है।
 
इस बीच, भाजपा उम्मीदवार एवं स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के उम्मीदवार रॉय नाइक को 10,066 मतों से हराकर अपनी वालपोई विधानसभा सीट बरकरार रखी। राणे ने कांग्रेस छोड़ने के बाद विधायक के तौर पर इस्तीफा दे दिया था। चुनाव में राणे को 16,167 वोट  मिले जबकि उनके प्रतिद्वन्द्वी कांग्रेस के रॉय नाइक को 6,101 वोट मिले। निर्दलीय प्रत्याशी रोहिदास गांवकर को 316 वोट मिले। कुल 454 मतदाताओं ने उपरोक्त में से कोई नहीं यानी नोटा का विकल्प चुना।
 
आज आए इन परिणामों के साथ विधानसभा में भाजपा के 14 सदस्य हो गए हैं। विधानसभा में कांग्रेस के 16 विधायक, गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पाटीर् (एमजीपी) के तीन-तीन, राकांपा का एक और तीन निर्दलीय विधायक हैं। भाजपा नीत गठबंधन में जीएफपी, एमजीपी और तीन निर्दलीय विधायक हैं।
 

मतगणना के लिए दिल्ली में सुरक्षा कड़ी

बवाना में मतों की गणना सुबह 8 बजे के बाद शुरू होगी। गुरमीत राम रहीम को सोमवार को सजा सुनाई जानी है। ऐसे में मतगणना के दौरान सुरक्षा का विशेष इंतजाम किया जा रहा है। कहीं कोई उपद्रवी खराब माहौल का फायदा उठा कर मतगणना को प्रभावित करने का प्रयास न करे इसे देखते हुए सुरक्षा के मद्देनजर बड़े पैमाने पर सुरक्षा कर्मियों को नियुक्त किया है। वहीं, आवश्यकता पड़ने पर बड़ी संख्या में पैरा मिलिट्री फोर्स भी बुलायी जा सकती है। राजधानी में धारा-144 पहले से ही लागू है।

उपचुनाव के लिए 23 अगस्त को मतदान हुआ था। चुनाव अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर पूरी मतगणना प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिग भी कराई जाएगी। यदि कोई प्रत्याशी मतगणना की प्रक्रिया या परिणामों पर सवाल उठाता है तो उसे निर्धारित प्रक्रिया के तहत विडियो रिकॉ¨डग भी दिखायी जा सकती है। चुनाव आयोग के मुताबिक, कड़ी सुरक्षा के बीच सोमवार सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू हो जाएगी। सुबह 9 बजे से मतों की गणना के बाद रुझान आने लगेगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया