प्रद्युम्न मर्डर केस : पिता वरुण ठाकुर ने SC में दायर की याचिका, स्कूल की प्रिंसिपल की तबीयत खराब

Updated on: 18 July, 2019 08:51 AM

गुरुग्राम स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की हत्या मामले में आज बड़ी कार्रवाई हुई है। पुलिस ने रेयान स्कूल के रीजनल हेड और एचआर हेड को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार रीजनल हेड फ्रांसीस थॉमस और जेयुस थॉमस को जेजे एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा कल प्रदर्शन कर रहे अभिभावकों पर लाठीचार्ज के मामले में सोहना के एसएचओ को सस्पेंड क गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं प्रद्युम्न की मां ने इंसाफ की मांग करते हुए कहा कि अगर उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो वे खुदकुशी कर लेंगी। वहीं पिता वरुण सीबीआई जांच की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट के लिए निकल चुके हैं। 

लाइव अपडेट्स

11:40AM : फरीदाबाद के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में नशे में मिला कर्मचारी, अभिभावकों ने किया हंगामा, मौके पर पहुंची पुलिस

11:15AM:  प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका

10: 30AM : रेयान इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल की तबीयत खराब

10: 00AM : ग्रेटर नोएडा में रेयान इंटरनेशनल स्कूल के बाहर अभिभावकों का प्रदर्शन, अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर कर रहे सवाल

9.15AM: नोएडा रेयान स्कूल पर अभिभावकों का प्रदर्शन। बच्चों की सुरक्षा की गारंटी मांगी। ग्रेटर नोएडा वेस्ट रेयान पर भी प्रदर्शन।

9.10AM:  देर रार बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने भी लिया था संज्ञान, सीएम मनोहर लाल से की थी कार्रवाई की अपील।

9.05AM:  पिता वरुण सुप्रीम कोर्ट में अपील करने के लिए निकले, मां ने कहा, इंसाफ नहीं मिला तो खुदकुशी कर लूंगी।

9.02AM:  दोनों की गिरफ्तारी जे जे एक्ट के तहत हुई है- पुलिस

9.00AM:  सोहना रोड सदर SHO वरुण विश्नोई को गिरफ्तार किया गया, तेजी से जांच की जा रही है: सीपी गुरुग्राम

8.50AM: लाठीचार्ज के सिलसिले में सोहना एसएचओ को सस्पेंड किया गया।

8.45AM: Ryan International School के रीजनल हेड और एचआर हेड को पुलिस ने गिरफ्तार किया। आज सोहना कोर्ट में होगी पेशी।

8.15AM: विरोध प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने रेयान के सभी स्कूलों को आज और कल बंद रखने के आदेश दिये हैं।

8.10AM: रेयान इंटरनेशनल स्कूल के बाहर भारी पुलिस बल तैनात

8.02AM: प्रद्युम्न के पिता ने कहा कि सुरक्षा व्यवस्था में खामियां भी मौत की एक वजह है।
8.00AM: सुप्रीम कोर्ट के लिए घर से निकले प्रद्युम्न के पिता।

जांच से खुलासा

तीन सदस्यीय एसआईटी टीम ने अपनी जांच में पाया कि सीसीटीवी लगाने में गड़बड़ी की गई थी साथ ही स्कूल के अंदर ड्राइवर और कंडक्टरों के लिए अलग से कोई टॉयलेट की व्यवस्था नहीं थी। स्कूल की बाउंड्री भी टूटी हुई थी और टॉयलेट बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं थे। एसआईटी के सदस्यों ने यह भी बताया कि स्कूल में रखे गए कर्मचारियों की भी सही तरीके से पुलिस वेरिफिकेशन नहीं कि जाती है। एसआईटी द्वारा रिपोर्ट सौंपे जाने के बाद गुरुग्राम के डीसी ने माध्यमिक शिक्षा के निदेशक को पत्र लिखकर हरियाणा स्कूल शिक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिए।


किशोर न्याय अधिनियम के तहत मामला दर्ज
शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने बताया कि स्कूल प्रबंधन और मालिक के खिलाफ किशोर न्याय अधिनियम (जे जे एक्ट) की धारा 75 के तहत कार्रवाई की जा रही है। हालांकि अन्य बच्चों के भविष्य का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि स्कूल की मान्यता रद्द नहीं की जाएगी। शर्मा ने यह भी कहा कि अगर पूरी जांच से प्रद्युम्न के माता-पिता संतुष्ट नहीं होंगे तो सरकार किसी भी एजेंसी से मामले की जांच के लिए तैयार है।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि जांच एक सप्ताह में पूरी कर ली जाएगी और जो लोग दोषी पाए जाएंगे उन्हें सजा मिलेगी।

सीबीआई जांच की मांग
प्रद्युम्न के परिवार ने मामले की सीबीआई जांच की मांग की है। इसके लिए वह सोमवार को सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा सकता है।

सीईओ ने तोड़ी चुप्पी
रायन इंटरनैशनल स्कूल्स ग्रुप के सीईओ रायन पिंटो ने घटना के तीसरे दिन चुप्पी तोड़ी। रविवार को एक बयान में उन्होंने पीड़ित परिवार के प्रति संवेदनाएं जाहिर करते हुए कहा कि स्कूल अपनी स्थापना से अब तक के सबसे दुखद समय का सामना कर रहा है। उन्होंने कहा, 'यह समझा जा सकता है कि सभी हम से जवाब चाहते हैं। इसलिए हम पुलिस जांच में पूरा सहयोग कर रहे हैं। हमें कानून पर पूरा भरोसा है। हम सभी पक्षों से अपील करते हैं कि जांच चल ही रही है और हमें अभी से दोषी ना ठहराया जाए, जबकि हम खुद दुर्भाग्यपूर्ण परिस्थिति के पीड़ित हैं।

भारी बवाल
हत्या से आक्रोशित अभिभावक स्कूल पर कार्रवाई की मांग को लेकर गेट के पास जमा हो गए। प्रदर्शन में शामिल कुछ लोगों ने स्कूल के पास स्थित शराब के ठेके में आग लगा दी। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज शुरू कर दिया। इससे वहां भगदड़ मच गई। मौके पर मौजूद लोकसभा सांसद पप्पू यादव भी निशाना बने। लाठीचार्ज में अभिभावकों और पत्रकारों को चोटें आई हैं। उधर, प्रद्युम्न के परिवार से मिलने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी पहुंचे।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया