प्रद्युम्न मर्डर केसः अगेस्टेन और ग्रेस पिंटो की गिरफ्तारी पर बॉम्बे HC ने लगाई रोक, बुधवार तक पुलिस नहीं कर सकती अरेस्ट

Updated on: 21 November, 2019 04:56 AM

हरियाणा के गुरुग्राम में स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के प्रद्युम्न की हत्या मामले की जांच की आंच अब मुंबई पहुंच गई है। हरियाणा पुलिस की टीम रेयान स्कूल के सीईओ से पूछताछ के लिए मुंबई पहुंच गई है। वहीं गिरफ्तारी से बचने के लिए रेयान इंटरनेशनल स्कूल के सीईओ रेयान पिंटो और उनके परिवार के दो सदस्यों ने बॉम्बे हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने अगेस्टेन पिंटो और ग्रेस पिंटो की गिरफ्तारी पर बुधवार तक रोक लगा दी है। रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दो बड़े अधिकारियों की गिरफ्तारी के बाद पिंटो परिवार ने अग्रिम जमानत याचिकाएं दायर की गई थीं।
रेयान इंटरनेशनल स्कूल के वकील ने बताया कि स्कूल के संस्थापक अध्यक्ष अगेस्टेन पिंटो और स्कूल की प्रबंध निदेशक उनकी पत्नी ग्रेस पिंटो ने अपने बेटे रेयान पिंटो के साथ बंबई हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिये याचिका दायर की थी। न्यायमूर्ति अजय गडकरी के समक्ष सोमवार सुबह प्रधान ने यह याचिका लगाई

पुलिस ने कहा कि गुरूग्राम में स्कूल परिसर में छात्र की निर्मम हत्या के सिलसिले में रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दो वरिष्ठ अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया है जबकि कार्यवाहक प्रधानाचार्य को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया गया है। दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युमन ठाकुर का शुक्रवार को स्कूल के शौचालय में शव मिला था।

इस मामले में एक बस परिचालक को गिरफ्तार किया गया है। छात्र की हत्या के बाद इस मामले को लेकर लोगों में काफी जनाक्रोश है।

प्रद्युम्न मर्डर केसः जानें अब तक इस मामले क्या-क्या हुआ

रेयान ग्रुप चौतरफा इसलिए भी घिरता नजर आ रहा है क्योंकि अब तक हुई तमाम शुरुआती जांच में स्कूल के स्तर पर कई खामियां सामने आई हैं। आइए जानते हैं कि ऐसी वो कौन सी बातें हैं जो रेयान ग्रुप की मुश्किलें बढ़ा रही हैं।

- गुरुग्राम के डीसी ने जांच कर अपनी रिपोर्ट शिक्षा विभाग को भेज दी है, जिसमें स्कूल के खिलाफ तमाम तथ्य निकलकर सामने आए हैं।

- शिक्षा विभाग अब इस रिपोर्ट के आधार पर स्कूल को नोटिस भेजने की तैयारी में है, जिसमें पूछा जाएगा कि तमाम लापरवाहियों के चलते क्यों न स्कूल की मान्यता ही रद्द कर दी जाए।

- बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने भी अपनी टीम भेजकर स्कूल में जांच कराई है, जिसमें स्कूल के स्तर पर कई गड़बड़ियां सामने आयी हैं। आयोग ने भी अपनी सिफारिशें गुरुग्राम प्रशासन को भेज दी हैं, जिनमें स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की बात भी कही गई है।

- पुलिस ने प्रद्युम्न के दो सहपाठियों से भी पूछताछ पूरी कर ली है।

- दिल्ली एनसीआर समेत तमाम दूसरे शहरों से भी अब रेयान स्कूल की लापरवाहियों की कहानियां निकलकर सामने आ रही हैं, जिसमें बच्चों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी।

- लापरवाहियों के अटूट सिलसिले और रेयान ग्रुप के स्कूलों में हुए हादसों से अब अभिभावकों का भी गुस्सा फूटने लगा है, जिसकी तमाम तस्वीरें अलग अलग जगह से पिछले दो दिनों में सामने आई हैं।

हालांकि प्रद्युम्न के पिता की सीबीआई जांच की मांग वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट ने मंजूर कर ली है और केंद्र के साथ ही हरियाणा सरकार से जवाब के लिए नोटिस भी जारी कर दिए गए हैं।

गुरुग्राम पुलिस पहले ही ये ऐलान कर चुकी है कि वो सात दिन के भीतर प्रद्युम्न के हत्यारे के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर देगी।
- उधर हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि वे इस मामले की सीबीआई जांच के लिए तैयार हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया