ड्रैगन का पैतरा: ब्रह्मपुत्र के पानी के आंकड़े साझा करने से किया इनकार

Updated on: 20 July, 2019 03:01 AM

चीन ने मंगलवार को कहा कि वह ब्रह्मपुत्र नदी के पानी का आकंड़ा भारत के साथ फिलहाल साझा नहीं कर सकता। तिब्बत में आंकड़ा संग्रहण केंद्र को अद्यतन किया जा रहा है। इस वजह से अभी आंकड़े देना संभव नहीं है।

हालांकि चीन ने यह कहा कि वह तिब्बत में कैलाश और मानसरोवर आ रहे भारतीय तीर्थयात्रियों के  लिए सिक्किम में नाथु ला को फिर से खोलने के लिए भारत से संवाद जारी रखने को तैयार है। डोका ला विवाद के चलते मध्य जून में यह बातचीत बंद दी गई थी।

चीन के विदेश मंत्री के प्रवक्ता गेंग सुआंग ने यहां कहा, लंबे समय तक हमने भारतीय पक्ष के साथ नदी आंकड़े पर सहयोग किया है। लेकिन चीन में संबंधित स्टेशन को अद्यतन किए जाने के कारण फिलहाल हम इस स्थिति में नहीं हैं कि नदी के प्रासंगिक आंकड़े जुटा पाएं। जब उनसे पूछा गया कि चीन आंकड़े कब  देगा जो डोका ला विवाद के कारण कथित रूप से देना बंद कर दिया गया था, उन्होंने कहा, हम इस पर बाद में विचार करेंगे।

क्या भारत को पानी का आंकड़ा साझा नहीं करने के बारे में सूचना दी गई है। यह सवाल पूछे जाने पर सुआंग ने कहा कि उनकी जानकारी के हिसाब से भारतीय पक्ष इससे वाकिफ है।

बीते 18 अगस्त को भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि पहले से ही, 2006 में स्थापित विशेषज्ञ स्तरीय प्रणाली है और दो ऐसे सहमति ज्ञापन हैं, जिनके तहत चीन से 15 मई-15 जून के बाढ़ के मौसम में सतलुज और ब्रह्मपुत्र नदियों पर जलीय आंकड़े साझा करने की उम्मीद की जाती है। कुमार ने कहा था, इस साल हमें चीनी पक्ष से कोई जलीय आंकड़े नहीं मिले। 

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया