लखनऊ: गुमनामी बाबा मामले की जांच रिपोर्ट राज्यपाल को सौंपी

Updated on: 17 October, 2019 02:17 PM

यूपी के राज्यपाल राम नाईक से मंगलवार को राजभवन में अवकाश प्राप्त न्यायमूर्ति विष्णु सहाय ने मुलाकात की। इस मुलाकात में उन्होंने गुमनामी बाबा उर्फ भगवान जी जांच आयोग के अध्यक्ष की हैसियत से 347 पृष्ठों की रिपोर्ट सौंपी। राज्यपाल ने कहा कि आयोग द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट के परीक्षण के बाद वे इसे अग्रिम कार्रवाई के लिए राज्य सरकार के पास भेजेंगे। 

न्यायमूर्ति विष्णु सहाय ने इस एक एकल सदस्यीय आयोग का चार्ज 4 जुलाई, 2016 को ग्रहण किया था। आयोग ने अपनी रिपोर्ट लगभग 14 माह में पूरी की है। 31 जनवरी 2013 को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने प्रदेश सरकार को फैजाबाद के रामभवन में रहने वाले गुमनामी बाबा उर्फ भगवान जी की पहचान की जांच के लिए एक पैनल के गठन पर विचार करने को कहा था।

इलाहाबाद हाईकोर्ट में इस बात को लेकर याचिका दायर की गई थी कि फैजाबाद में रहने वाले गुमनामी बाबा ही नेताजी सुभाष चन्द्र बोस थे।  इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल की प्रमुख सचिव जूथिका पाटणकर, आयोग के सचिव अवकाश प्राप्त जिला जज न्यायाधीश दिलीप कुमार भी उपस्थित थे।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया