मोदी का दौरा:12 साल बाद बदलेगी काशी की तस्वीर,इस पुल का लोकार्पण आज

Updated on: 17 October, 2019 07:12 AM

गंगानदी पर बने सामनेघाट व बलुआघाट पुलों को करीब 12 साल बाद जीवन मिलने जा रहा है। 22 सितम्बर को प्रधानमंत्री इन दोनों पुलों का लोकार्पण करेंगे। इसी के साथ दोनों पुलों पर आवागमन शुरू हो जाएगा। बुधवार को दोनों पुलों पर रंग-रोंगन  युद्ध स्तर पर चलता रहा। पूरे दिन अफसरों की आवाजाही पुल पर लगी रही।

दोनों पुलों के चालू होने से बनारस के विस्तार में तेजी आनी तय है। सामनेघाट पुल से रामनगर की दूरी महज एक किमी रह जाएगी। वहीं बलुआपुल के चालू होने से बलुआ, चहनियां, धानापुर, सकलडीहा आने जाने वालों को काफी राहत मिलेगी।  इन इलाकों की बनारस से करीब 50 किमी की दूरी कम हो जाएगी।
काशी में मोदी:जनता को देंगे 850 करोड़ की सौगात,18 योजना का लोकापर्ण आज

रामनगर-सामनेघाट पुल उद्घाटन को तैयार

97 करोड़ की लागत से बनकर तैयार रामनगर सामनेघाट पक्का पुल को अब पीएम नरेन्द्र मोदी के हाथों लोकार्पण का इंतजार है। बुधवार को पुल के अप्रोच मार्ग के बाकी बचे काम भी करा लिए गए । साथ ही रेलिंग निर्माण और दोनों तरफ रंगरोगन का काम पूरा कर लिया गया । सेतु निगम के अवर अभियंता रियाज हुसैन ने बताया कि शुक्रवार शाम प्रधानमंत्री लालपुर स्थित स्टेडियम से पुल का उद्घाटन करेंगें। गुरुवार को सफाई के बाद पुल पूरी तरह से बंद कर दिया जाएगा। शुक्रवार को लोकार्पण के बाद उसे आवागमन के लिए खोल दिया जाएगा। लोकार्पण के लिए पुल को माला-फूल के अलावा झालरों से सजाया जाएगा।

पिछले बारह सालों से अपना निर्माण पूरा होने की प्रतीक्षा कर रहा बलुआपुल पर बुधवार को लोड टेस्टिंग हुई। करीब 86 करोड़ की लागत से बनकर तैयार पुल इस टेस्ट में पास हो गया। अब केवल पुल के लोकार्पण का इंतजार है। इलाके के चहनिया, बलुआ, मिश्रीपुरा आदि गांवों के लोगों में पुल निर्माण को लेकर बेहद खुशी है। पूरे दिन पुल का रंगरोगन चलता रहा। उत्सुकता के चलते लोग पुल पर चढ़कर यह देख रहे थे कि गंगा कितनी नीचे हैं। देर शाम पुल के दोनों अप्रोच मार्ग ठीक किये जाते रहे। सहायक अभियंता एसएन पाण्डेय ने बताया कि पुल के सभी कार्य गुरुवार दोपहर 12 बजे तक पूरे हो जाएंगे। पीएम के हाथों लोकार्पण के साथ ही पुल आवागमन के लिए खोल दिया जाएगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया