चीन को नमस्ते: भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण का मुरीद हुआ बीजिंग

Updated on: 25 August, 2019 08:40 AM

भारतीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पिछले दिनों सिक्किम में थीं और यहां पर उन्होंने नाथूला स्थित भारत-चीन सीमा का दौरा भी किया। निर्मला जब यहां पर पहुंची तो उन्होंने चीनी सैनिकों से भी बात की। रक्षा मंत्री ने उनसे नमस्ते किया और उन्हें इसका मतलब समझाया। निर्मला सीतारमण का यही अंदाज चीन का दिल जीत चुका है। चीन में अब निर्मला सीतारमण की जमकर तारीफ हो रही है। चीन ने सोमवार को कहा कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण का नाथुला में अग्रिम चौकियों का दौरा 1890 में ब्रिटेन-चीन के बीच हुए समझौते की भावनाओं के अनुकूल था। सीतारमण पहली बार सिक्किम में चीन सीमा पर अग्रिम चौकियों का दौरा किया था और चीन के सैनिकों से भी संक्षिप्त बातचीत की थी। उन्होंने चीनी सैनिकों को नमस्ते का मतलब भी बताया।चीनी मीडिया में भी सीतारमण के नाथुला दौरे की चर्चा है। चीन के सरकारी न्यूज चैनल सीजीटीएन ने बातचीत का विडियो चलाते हुए लिखा था कि भारतीय रक्षा मंत्री ने सीमा पर चीनी सैनिकों का अभिवादन किया।
हांगकांग स्थित साउथ चाइना मॉर्निग पोस्ट ने इस खबर के लिए हेडलाइन दी है, 'भारत की रक्षा मंत्री ने चीनी सैनिकों के साथ मैत्री पुल बनाया।' चीनी सैनिकों के साथ सीतारमण की बातचीत को चीन में सोशल मीडिया पर भी काफी सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। चीन की सत्ताधारी पार्टी के सूत्रों की मानें तो पार्टी के अंदर लोग सीतारमण सीमा पर मौजूद चुनौतियों का सामना करने की वजह से एक 'बहादुर महिला' करार दे रहे हैं। सूत्रों की मानें तो यह सीतारमण का रक्षा मंत्री बनना अपने आप में काफी अहम है क्योंकि अभी तक कम्यूनिस्ट पार्टी में भी कोई भी महिला वरिष्ठ पद पर नहीं है। एक ब्लॉगर झूई झूई ने इस पर लिखा है कि वह इस शांति वाले दृश्य को देखकर काफी खुश हैं। एक और इंटरनेट यूजर ट्यू युयेव्यू ने लिखा कि एक भारतीय महिला का रक्षा मंत्री बनना मतलब सीमा पर मुश्किलों का और बढ़ना है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया