रन फॉर यूनिटी Live Video: नई पीढ़ी से सरदार पटेल को परिचित नहीं कराया गया- मोदी

Updated on: 12 November, 2019 05:07 AM

स्वतंत्र भारत के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल का आज 142वां जन्मदिवस है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने संसद मार्ग स्थित पटेल चौक पर सरदार पटेल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित किया।  इस मौके पर आज इंडिया गेट से सटे नेशनल स्टेडियम में 'रन फॉर यूनिटी' का आयोजन किया गया।   पीएम मोदी ने हरी झंडी दिखाकर 'रन फॉर यूनिटी' को रवाना किया।  इस आयोजन में कई वीआईपी समेत हॉकी खिलाड़ी सरदारा सिंह, क्रिकेटर सुरेश रैना, जिम्नास्टिक दीपा कर्माकर समेत करीब 15000 लोगों ने हिस्सा लिया।

लाइव अपडेट्स

7.48AMः रन फॉर यूनिटी में हॉकी खिलाड़ी सरदारा सिंह, क्रिकेटर सुरेश रैना, दीपा करमाकर समेत कई खिलाड़ी और करीब 15000 लोग शामिल थे।

7.48AMः  पीएम मोदी ने रन फॉर यूनिटी को हरी झंडी दिखाई

7.46AMः  शपथ- - मैं सत्य निष्ठा से शपथ लेता हूं कि मैं राष्ट्र की एकता, अखंता को बनाए रखने के लिए स्वयं को समर्पित करूंगा और अपने देश वासियों के बीच इसे फैलाने की कोशिश करूंगा। मैं ये शपथ अपने देश की एकता की भावना को बढ़ाने के लिए ले रहा हूं। जिसे सरदार बल्लभभाई पटेल की दुरदृष्टता द्वारा संभव बनाया जा सका। मैं अपनी देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भी सत्य निष्ठा से संकल्प लेता हूं।

7.46AMः पीएम मोदी ने देशवासियों को सरदार पटेल की जयंती पर राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलाई

7.44AMजैसे हम हर साल रक्षाबंधन का पर्व मनाते हैं वैसे ही देश की सांस्कृतिक विरासत सामर्थ्यवान होने के बाद भी हर बार हमें उसको पुन: संस्कारित करना जरूरी होता है: मोदी

7.41AM आज दुनिया में एक ही पंथ के पले-बढ़े लोग भी एक-दूसरे को पसंद नहीं करते, ऐसे में हम वह देश हैं जो दुनिया की हर मान्यता, परंपरा और पंथ को खुद में समेटकर एकता के सूत्र में बंधे हुए हैं: मोदी

7.39 AMहम बड़े नाज के साथ कह सकते हैं कि दुनिया के अलग-अलग रंग को यह भारत खुद में समेटे हुए है: मोदी

7.38AMजब तक हम अपने देश की विविधता पर गर्व नहीं करेंगे तब तक विविधता केवल शब्दों में काम आएगी लेकिन राष्ट्र के भाग्य निर्माण के लिए हम उसका उपयोग नहीं कर पाएंगे: मोदी

7.37AM आज राजेंद्र बाबू (देश के प्रथम राष्ट्रपति) की आत्मा को जरूर संतोष हो रहा होगा: मोदी

7.36AM इसी का परिणाम है कि जब देश ने हमें मौका दिया तब हम उनकी जयंती को 'रन फॉर यूनिटी' के रूप में मना रहे हैं ताकि उनका योगदान आने वाली पीढ़ियां याद रखें: मोदी
7.3AM सरदार पटेल तो सरदार पटेल थे। कोई राजनीतिक दल उनकी महानता को स्वीकार करे या न करे लेकिन यह देश एक पल के लिए भी उनको भूलने के लिए तैयार नहीं है: मोदी
7.33AMइस महापुरुष के नाम को इतिहास के झरोखे से मिटा देने या छोटा करने का प्रयास हुआ: मोदी
7.32AM सरदार पटेल से हमारे देश की नई पीढ़ी को शायद परिचित ही नहीं करवाया गया: मोदी
7.3AM सरदार पटेल ने देश को जोड़ा- पीएम मोदी
7.30AM सरदार पटेल ने बहुत कम समय में देश को एकता के सूत्र में बांध दिया: मोदी
7.28AM पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि का भी जिक्र किया

7.26AM: सरदार वल्लभभाई पटेल के जयकारों से शुरू हुआ पीएम मोदी का संबोधन

7.25AM: पीएम मोदी का संबोधन शुरू

7.10AM: गृहमंत्री राजनाथ का संबोधन शुरू

किस रास्ते से गुजरेगी एकता दौड़
एकता दौड़ नेशनल स्टेडियम से शुरू होकर सी-हैक्सागन और शाहजहां रोड़ से होती हुए इंडिया गेट तक करीब 1.5 किलोमीटर का रास्ता तय कर पहुंचेगी।
क्यों मनाया जाता है एकता दिवस?
सरकार 31 अक्टूबर को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय एकता दिवस मनाकर हमारे देश की मजबूत एकता, अखंडता और सुरक्षा को संरक्षित करने में सरकार के समर्पण को व्यक्त करने के लिए इसे विशेष दिवस के रूप में मनाती है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया