अमेरिका: ऑस्टिन से लेकर लास वेगास तक, पहले भी हो चुकी हैं गोलीबारी की घटनाएं

Updated on: 16 October, 2019 11:02 AM

अमेरिका के टेक्सास में रविवार को हुई गोलीबारी में 26 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 20 लोग घायल हो गए हैं। सदरलैंड स्प्रिंग्स में स्थित बैपटिस्ट चर्च में हुई गोलीबारी की घटना में हमलावर को पुलिस ने मार गिराया।

चर्च में गोलीबारी की इस घटना के बाद घटनास्थल पर भारी पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, शूटर दोपहर से थोड़े समय पहले चर्च में घुसा और गोलीबारी शुरू कर दी। अमेरिका में गोलीबारी की इससे पहले भी कई घटनाएं हो चुकी हैं। यहां जानिए अमेरिका में कब-कब इस तरह की घटनाएं सामने आई हैं:

लास वेगास (1 अक्टूबर, 2017)

इसी साल एक अक्टूबर को लास वेगास में 64 वर्षीय शख्स ने गोलीबारी की थी। इस फायरिंग में तकरीबन 59 लोगों की जान चली गई थी और कई घायल हुए थे। यह अमेरिका के इतिहास की गोलीबारी की सबसे वीभत्स घटनाओं में से एक है। स्टेफन पेडॉक नामक शूटर ने खुले में गोलीबारी की थी।
अमेरिका के ओरलैंडो में 12 जून, 2016 को गोलीबारी की घटना सामने आई थी। 29 वर्षीय उमर मतीन ने गे नाइट क्लब में ओपन फायरिंग की थी, जिसके बाद 49 लोग मारे गए थे। पुलिस ने मौके पर ही मतीन को मार गिराया था।

सैन बर्नार्डिनो काउंटी ( 02 दिसंबर, 2015)

2 दिसंबर, 2015 को सैन बर्नार्डिनो काउंटी में एक इवेंट के दौरान सैयद फारूक और तशफीन मलिक नामक कपल ने गोलियां चलाईं थी। इसमें 14 लोग मारे गए थे। इस घटना के बाद हमलावर के तार आईएसआईएस से जुड़े थे।

16 अप्रैल, 2007 को ब्लैक्सबर्ग में एक शूटर ने गोलीबारी की। इस गोलीबारी में 33 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था। पुलिस ने 26 वर्षीय हमलावर श्यूंग हुई चो को भी मार गिराया था। बाद में बताया गया था कि हमलावर को कई दिमागी रूप से दिक्कतें थीं।

न्यूटाउन (14 दिसंबर, 2012)

अमेरिका के न्यूटाउन में स्थित सैंडी हूक एलिमेंट्री स्कूल में गोलीबारी की घटना सामने आई थी। एडम लांजा नामक हमलावर ने 20 स्कूली बच्चों को मार गिराया था। बाद में पता चला था कि उसने गोलीबारी करने से पहले अपनी मां की भी हत्या कर दी थी। वहीं, गोलीबारी के बाद एडम ने आत्महत्या कर ली थी।
अमेरिका के कोलम्बाइन में स्थित कोलम्बाइन हाई स्कूल में 20 अप्रैल, 1999 में दो हमलवारों ने गोलीबारी की। 18 वर्षीय एरिक हैरिस और 17 साल का डैलन क्लीबोल्ड ने 13 लोगों की हत्या कर दी थी। इसके बाद दोनों ने आत्महत्या कर ली।

टेक्सास (16 अक्टूबर, 1991)

टेक्सास के एक रेस्टोरेंट में हुई गोलीबारी की घटना में 23 लोगों की मौत हुई थी। ज्योर्ज हेनर्ड नामक हमलावर ने पहले गोलीबारी की और फिर बाद में खुद को भी गोली से उड़ा लिया था।
अमेरिका के सैन सीड्रो में 18 जुलाई, 1984 को मैक डॉनाल्ड आउटलेट के पास गोलीबारी में 21 लोगों की जान गई थी। हमलावर की पहचान 41 वर्षीय जेम्स ह्यूबर्टी के नाम से हुई थी। गोलीबारी के दौरान हमलावर को पुलिस टीम ने मार गिराया था।

ऑस्टिन (1 अगस्त, 1966)

ऑस्टिन की टेक्सास यूनिवर्सिटी में एक अगस्त 1966 को तीन हमलावरों द्वारा की गई गोलीबारी में दर्जन से अधिक लोगों की जान चली गई थी। हमलावर की पहचान चार्ल्स विटमैन के नाम से हुई थी।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया