गीदड़ भभकी: आतंकी हाफिज सईद ने रिहा होते ही छेड़ा कश्मीर राग, कही ये बात

Updated on: 16 October, 2019 06:05 AM

पाकिस्तान की पंजाब प्रांत की एक अदालत ने बुधवार को मोस्ट वांटेंड आतंकी और मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की रिहाई के आदेश दे दिए। रिहा होते ही हाफिज ने भारत को धमकी दी है कि वह कश्मीर को आजाद कराकर रहेगा। हाफिज को अमेरिका और भारत दोनों ने मुंबई हमलों को मास्टरमाइंड माना है। 2008 में हुए इन हमलों में 166 लोगों की मौत हो गई थी।

10 मिलियन डॉलर का इनाम
हाफिज सईद को जनवरी से उसके घर में ही नजरबंद रखा गया था। वह पाकिस्तान में आजाद घूम रहा था और इस वजह से पाक और अमेरिका के रिश्ते भी काफी बिगड़ गए थे। अमेरिका और यूनाइटेड नेशंस दोनों ने ही उसे मोस्ट वांटेंड आतंकी घोषित किया हुआ है। उसके सिर पर अमेरिका ने 10 मिलियन डॉलर का इनाम भी घोषित किया हुआ है। हाफिज सईद गुरुवार को रिहा हो जाएगा और उसने अपनी रिहाई से पहले भारत को धमकी दी है। एक वीडियो मैसेज में हाफिज ने कोर्ट के जजों का शुक्रिया अदा किया और कहा कि उसकी रिहाई पाकिस्तान की जीत है। इसके साथ ही उसने अल्लाह का भी शुक्रिया अदा किया। हाफिज ने इसके साथ ही भारत को धमकी दी कि अल्लाह ने उसे कश्मीर को आजाद कराने के लिए रिहा कराया है। वह कश्मीर को आजाद कराकर रहेगा और भारत उसका कुछ भी बिगाड़ नहीं पाएगा। यहां यह बात गौर करने वाली है कि मुंबई हमलों की नौंवी बरसी के ठीक चार दिन पहले लाहौर की कोर्ट ने हाफिज को रिहा करने का आदेश दिया है।

31 जनवरी को हुआ था नजरबंद
पंजाब प्रांत के न्यायिक समीक्षा बोर्ड ने हाफिज की नजरबंदी की मियाद को तीन महीने बढ़ाने के सरकार के आग्रह को खारिज करते हुए बोर्ड ने बुधवार को सईद की रिहाई का आदेश दिया। बोर्ड ने कहा कि अगर जमात-उद-दावा का प्रमुख हाफिज सईद किसी अन्य मामले में वांछित नहीं है तो उसकी रिहाई का आदेश दिया जाता है।

इस साल 31 जनवरी को सईद और चार साथियों अब्दुल्ला उबैद, मलिक जफर इकबाल, अब्दुल रहमान आबिद और काजी कासिफ हुसैन को पंजाब की सरकार ने आतंकवाद विरोधी कानून-1997 और आतंकवाद विरोधी कानून की चौथी अनुसूची के तहत 90 दिनों के लिए नजरबंद किया था। न्यायिक बोर्ड ने पंजाब प्रांत की एक सरकार के अनुरोध को ठुकरा दकिया। सरकार ने एक न्यायिक बोर्ड से कहा था कि सईद को नजरबंदी से रिहा करने की स्थिति में पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय समुदाय से प्रतिबंध का सामना करना पड़ सकता है। 

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया