अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा बोले-दिल्ली आकर बहुत खुश हूं

Updated on: 17 November, 2019 09:07 AM

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा विश्व पटल पर भारत के उदय पर अपना नजरिया पेश करेंगे। इस साल समिट का थीम है- भारत का परिवर्तनीय उदय। इस समिट का आयोजन गुड्स और सर्विसेज टैक्स (GST) जैसे सुधारों के बीच और मूडीज के द्वारा भारत की रेटिंग बढ़ाए जाने के पृष्ठभूमि के बीच किया जा रहा है। भारत की बढ़ती आर्थिक ताकत से राजनयिक जीत में तब्दीली मिली है जिससे भू-राजनीति के पारंपरिक समीकरण बदल रहे हैं।

पिछले 14 सालों से यह समिट विभिन्न बदलावकारी विचारों का मंच रहा है। 2003 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इसी मंच से सार्क देशों के लिए एक करंसी का विचार दिया था। साल 2015 में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में पॉल्यूशन को कम करने के लिए ऑड-ईवन लागू करने की घोषणा की थी।

लाइव अपडेट्स

अमेरिका के पू्र्व राष्ट्रपति बराक ओबामा का सत्र शुरू

11:30 PM- अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा पद से हटने के बाद पहली बार आए भारत

11:15 AM- ओबामा बोले, दिल्ली आकर बहुत खुश हूं

11:00 AM- पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा कुछ ही देर में संबोधन देने वाले हैं। इस कार्यक्रम में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, रॉबर्ट वाड्रा और वरिष्ठ कांग्रेस लीडर ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल हुए हैं।

10:45 AM-समिट में आज मंच पर ओबामा के अलावा रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के मुखिया मुकेश अंबानी, केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मशहूर मॉडल नाओमी कैम्पबेल, मशहूर लेखक और एक्ट्रेस रोज मैकगॉन, मलाला फंड की सीईओ फराह मोहम्मद और CanDo की सीईओ डॉक्टर रोला हैलम नजर आएंगी।

10:30 AM- समिट के पहले दिन पीएम मोदी, वित्त मंत्री अरुण जेटली, बॉलीवुड एक्टर सलमान खान, अफगानिस्तान के कार्यकारी अधिकारी अब्दुल्ला अब्दुल्ला, फेसबुक न्यूज प्रोडक्ट की डायरेक्टर एलेक्सा हार्डिमैन, मशहूर शेफ विकास खन्ना और गगन आनंद, कैंसर के डॉक्टर एसके तिवारी और माधव ढोडापकर, मैड स्ट्रीट डेन की सीईओ अश्विनी अशोकन, PayTM के CEO विजय शेखर शर्मा ने हिस्सा लिया।

पहले दिन के हाइलाइट्स

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: समिट में पीएम मोदी ने कहा कि 2014 में वोट देश बदलने के लिए दिया, जनधन योजना से करोड़ों लोगों को हुआ फायदा, गरीबों का हौसला बढ़ा। देश के 15 करोड़ से ज्यादा गरीब सरकार की बीमा योजनाओं से जुड़ चुके हैं। इन योजनाओं के तहत गरीबों को लगभग 1800 करोड़ रुपए की दावा राशि दी जा चुकी है।

अरुण जेटली : वित्त मंत्री अरुण जेटली ने जीएसटी पर कहा कि इसकी वजह से 16-17 तरीकों के टैक्स की जगह एक ही तरह का टैक्स आ गया है। देश में जीएसटी के लागू होने के बाद से तमाम बैरियर हट गए हैं, जिसकी वजह से देश मार्केट बन गया है।
उन्होंने आगे कहा कि यह संभव नहीं है कि एक ही जीएसटी रेट रखा जाए। अगर सरकार कम जीएसटी रेट लागू करती तो महंगाई पहले और बढ़ जाती।   इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर बात की जिसमें से एक था यौन शोषण। सलमान ने कहा, मैंने आज तक ऐसा कुछ नहीं सुना, तो मैं इस बारे में कुछ बोल नहीं सकता। मुझे ऐसा करने वाले लोग बिल्कुल नहीं पसंद। ये सब बहुत ही घटिया हरकतें हैं। कभी किसी को काम दिलाने के लिए यूज नहीं करना चाहिए। ये बहुत ही गलत है। फिर चाहे कोई लड़का हो या लड़की।

PayTM के CEO विजय शेखर शर्मा : पेटीएम के सीईओ विजय शेखर शर्मा ने बताया कि कामयाब होने के लिए उद्देश्य का होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बिना उद्देश्य के आप कामयाब नहीं हो सकते हैं। वहीं पेपरबोट के नीरज कक्कर ने कहा कि एंटरप्रनॉर होना बहुत सेलफिश है, आपके पास परिवार के लिए समय नहीं होता, पैसा नहीं होता

मैड स्ट्रीट डेन की सीईओ अश्विनी अशोकन: मैड स्ट्रीड डेन की सीईओ अश्विनी अशोकन ने कहा कि अभी फिलहाल हम प्रॉफिट के बारे में नहीं सोच रहे हैं, टैक को हर इंसान तक पहुंचाना हमारी प्राथमिकता है।टेक्नॉलजी फील्ड में एक औरत होकर ऐसी पोजिशन पर होना चुनौतीपूर्ण है, लेकिन मुझे ये अच्छा लगता है।

कैंसर के डॉक्टर एसके तिवारी और माधव ढोडापकर : कैंसर के बारे में बताते हुए एसके तिवारी ने कहा कि कैंसर एक बहुत खतरनाक दुश्मन है, जिसमें हमारी ही सेल्स हमारे शरीर के खिलाफ काम करने लगती हैं। भारत में कैंसर से करीब 30 फीसदी जानें बचाई जा सकती थीं। अमेरिका में आईसीयू का एक दिन का खर्चा 50,000 डॉलर है, कैंसर का अगर शुरुआती दौर में पता चल जाए तो इसे बचाया जा सकता है। वहीं मशहूर डॉक्टर माधव ढोडापकर ने कहा, भारत में ज्यादातर कैंसर डायग्नोज आखिरी के स्टेज में होता है, जिस कारण ढंग से उपचार नहीं हो पाता।


मशहूर शेफ विकास खन्ना और गगन आनंद : हिन्दुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट में मशहूर शैफ विकाश खन्ना ने कहा कि खाना अब सेल्फ एक्सप्रेशन बन चुका है, लोग खाने के जरिए अपनी अलग भाषा तैयार कर रहे हैं। खाना बनाना किसी कविता कहने से कम नहीं है। वहीं गगन आनंद ने कहा कि हमने चींटियां परोसना शुरू किया था और आज चींटी कैवियार से ज्यादा महंगी हो गई है। हमारे पास वो सबकुछ था जिससे कोई भी खाना स्वादिष्ट बन सकता था इसके बावजूद हम पीछे रह गए।

अफगानिस्तान के कार्यकारी अधिकारी अब्दुल्ला अब्दुल्ला : समिट के 15वें संस्करण के उद्घाटन में अब्दुल्ला ने आतंकवाद के मुद्दे पर कहा कि आतंकी समूह किसी भी देशों के हितों की रक्षा नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि आतंकवाद से जूझने वाले देश एकसाथ मिलकर इसके खिलाफ काम करना चाहिए। अफगानिस्तान आज आतंकवादी हमले और बुरे राजनीतिक हालातों से उबरने की कोशिश कर रहा है। आतंकवाद ने ना सिर्फ हमें बल्कि पूरी इंसानियत को भयभीत किया है।

फेसबुक न्यूज प्रोडक्ट की डायरेक्टर एलेक्सा हार्डिमैन:बेकार कंटेंट का पता लगाकर हम उसे अपने प्लैटफॉर्म से हटा रहे हैं। हम फेक और गलत जानकारी वाली खबरों को चेक करने के लिए थर्ड पार्टी फैक्ट चेकिंग शुरू कर चुके हैं। फेसबुक पर गलत जानकारियां काफी कम हैं, लेकिन हमें इसे अपने प्लैटफॉर्म से हटाना होगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया