सीएम की घोषणा- पीएसी में 18 हजार जवानों की होगी भर्ती

Updated on: 22 April, 2019 02:30 AM

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पीएसी में 18 हजार जवानों की भर्ती की जाएगी। इससे पीएसी की और 74 कंपनियां सक्रिय हो जाएंगी। वह रविवार को महानगर स्थित 35वीं वाहिनी पीएसी के मैदान में आयोजित पीएसी दिवस समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्तमान में पीएसी की 33 वाहिनियों में कुल 273 कम्पनियां स्वीकृत हैं। इनमें से 199 कम्पनियां क्रियाशील हैं जबकि 74 कम्पनियां अक्रियाशील हैं।

इन अक्रियाशील कम्पनियों को क्रियाशील किए जाने के लिए इन 18 हजार जवानों की भर्ती की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की एक वाहिनी के गठन के बाद उसकी प्रस्तावित 6 कम्पनियों में से पहले चरण में 3 कम्पनियां गठित की जा चुकी हैं। अगले चरण में शेष 3 कम्पनियां भी गठित की जाएंगी। पीएसी के गौरवशाली इतिहास की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि अपनी निष्ठा, निष्पक्षता, व्यावसायिक दक्षता, साहस एवं वीरता के जो मापदंड पीएसी ने स्थापित किए हैं वह किसी भी सश बल के लिए आदर्श हैं। प्रदेश की कानून-व्यवस्था बनाए रखने में पीएसी की महत्वपूर्ण भूमिका स्वत: सिद्ध है।

गुजरात विधानसभा चुनाव सकुशल संपन्न कराने में भी पीएसी की सराहनीय भूमिका रही है।एटीएस एवं एसटीएफ जैसे पुलिस के महत्वपूर्ण संगठनों में भी पीएसी के ही कमाण्डो तैनात हैं। इसके अलावा सीआईएसएफ की तर्ज पर लखनऊ मेट्रो की सुरक्षा का कार्य भी पीएसी कर रही है। स्पेशल टाइगर प्रोटेक्शन फोर्स में भी पीएसी की महत्वपूर्ण सहभागिता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 13 दिसम्बर 2001 को संसद भवन एवं 5 जुलाई 2005 को अयोध्या में हुए आतंकी हमले के दौरान आतंकवादियों को मार गिराने में पीएसी की अहम भूमिका रही। संसद पर हमले की घटना के तो स्वयं साक्षी रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को रविवार को महानगर के 35 वाहिनी मैदान में आयोजित पीएसी दिवस समारोह में अधिकारियों ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया