पंचकुला हिंसाः हनीप्रीत समेत 15 आरोपियों के खिलाफ सुनवाई, सभी होंगे पेश

Updated on: 19 November, 2019 04:26 AM

दुष्कर्म के जुर्म में सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम सिंह की सबसे करीबी हनीप्रीत और 14 अन्य आरोपियों के खिलाफ दाखिल चार्जशीट पर आज पंचकूला कोर्ट में सुनवाई शुरू होगी। सुनवाई के दौरान हनीप्रीत समेत अन्य आरोपी कोर्ट में पेश किया गया है।

हनीप्रीत पर डेरा प्रमुख राम रहीम को सजा सुनाए जाने के बाद 25 अगस्त को हरियाणा के पंचकूला व अन्य जगहों पर हिंसा फैलाने का आरोप है। हरियाणा पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) की ओर से पंचकूला में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में 979 पृष्ठों का आरोपपत्र दाखिल किया गया।

पुलिस ने राजद्रोह, हिंसा फैलाने और आपराधिक साजिश रचने के आरोपों में हनीप्रीत और डेरा समुदाय के अन्य कार्यकर्ताओं को आरोपी ठहराया है।

हनीप्रीत 25 अगस्त की हिंसा की घटना के बाद 38 दिन तक फरार रही थी और उसे तीन अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था। उसका असली नाम प्रियंका तनेजा है।

वह अंबाला स्थित केंद्रीय कारा में 23 अक्टूबर से बंद है। हिंसा में उसके शामिल होने की पुष्टि के लिए एसआईटी हनीप्रीत को हरियाणा के विभिन्न जगहों पर ले गई थी।

पंचकूला की एक अदालत ने सितंबर में डेरा के तीन प्रमुख कार्यकर्ताओं हनीप्रीत, आदित्य इंसा और पवन इंसा के खिलाफ वारंट जारी किया था। हरियाणा पुलिस ने तीनों के खिलाफ राजद्रोह, हिंसा फैलाने व डेरा प्रमुख को भगाने की साजिश रचने के आरोप में मामला दर्ज किया था।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एक अदातल ने राम रहीम को 25 अगस्त को महिला अनुयायियों से दुष्कर्म के 1999 के मामले में दोषी करार दिया था।अदालत ने राम रहीम को 20 साल सश्रम कारावास और 30 लाख का जुर्माने की सजा सुनाई थी।

राम रहीम को अभियुक्त ठहराए जाने के बाद हरियाणा के पंचकूला और सिरसा में हिंसा की घटनाएं हुई थीं जिनमें 41 लोगों की जानें गईं और 260 जख्मी हुए थे। छिटफुट घटनाएं दिल्ली और पंजाब में भी हुई थीं।

हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने कथित तौर पर डेरा प्रमुख राम रहीम के साथ हनीप्रीत का अवैध संबंध होने का आरोप लगाया है। राम रहीम की बेटी होने का दावा करने वाली हनीप्रीत ने उनके साथ पांच पिल्मों में हीरोइन की भूमिका निभाई थी।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया