एएमयू छात्रों का खत: प्रिय मन्नान भाई.. आपने पूरे कश्मीर को कर दिया शर्मसार

Updated on: 16 September, 2019 02:52 AM

एएमयू में शिक्षा हासिल कर रहे कश्मीर के छात्रों ने मन्नान को ओपन खत लिखकर अपनी भावनाओं को जाहिर किया। वहीं उसके द्वारा उठाये गए इस कदम को भी शर्मसार करने वाला करार दिया।

छात्रों ने अपने खत में लिखा कि प्रिय मन्नान भाई.. मीडिया के माध्यम से आपको कलम के बजाय बंदूक पकड़े हुए देखा। यह देखकर दिमाग सुन्न हो गया। हमें उम्मीद नहीं थी ऐसा सुनने को मिलेगा। यह खबर सुनने के बाद अब हम लोगों के दिमाग ने भी सोचना बंद कर दिया है। हमें आपके बारे में बहुत दुर्भायपूर्ण खबरें मिल रही है।

आप अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में काम कुछ और करने आए थे और आपने कदम इस तरह का उठाया। हमें आपके इस डिसीजन पर विश्वास नहीं हो रहा है। आपने जो कदम उठाया है उस कदम की भरपायी किया जाना संभव नहीं है। कभी इसकी भरपायी नहीं हो सकती। पत्र में आगे कहा कि मीडिया भी कह रहा हैं कि आप जो तरक्की करने जा रहे थे, आपने उस पर खुद ही कुठाराघात किया। आपको किसी न किसी के द्वारा गलत कार्यो में धकेला गया है।
हमें लगता हैं कि अब आपका इस दलदल से वापस आना मुश्किलों से कम नहीं होगा। वैसे तो हर व्यक्ति किसी न किसी मुसीबत में जरुर फंसता है। उसके विरोध करने का तरीका अलग अलग होता है। लेकिन आपने जो यह कदम उठाया है, जो कृत्य किया है, उससे पूरा कश्मीर शर्मसार हुआ है। आप अपनी पढ़ाई के जरीए बहुत अच्छा रोल अदा कर सकते थे। जबकि आपने उसकी बजाय बंदूक उठाना उचित समझा।
एएमयू के स्टूडेंट्स ने मन्नान वानी को अपने मन की बात मीडिया को भेजे पत्र के माध्यम से मन्नान वानी तक पहुंचायी है। पत्र भेजने वालों में एएमयू के स्टूडेंट सुहेल, अब्दुल्ला, जावेद अहमद, एम अशरफ वाजा आदि शामिल है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया