पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में जमीन के नीचे गुपचुप बसाया जा रहा था मिनी बाजार, खुलासा

Updated on: 20 October, 2019 12:36 PM

अतिसंवेदनशील काशी विश्वनाथ मंदिर से चंद कदम दूरी पर दालमंडी इलाके में जमीन के नीचे नया बाजार बसा दिया। धरती के नीचे 20 फीट गहराई में करीब 200 मीटर की दूरी में इस बाजार का खुलासा एसएसपी से की गई गोपनीय शिकायत के बाद हुआ। सोमवार की आधी रात को गश्त के बहाने एसएसपी दालमंडी इलाके में पहुंचे। वह उस स्थान पहंुच गए जहां जमीन के नीचे अवैध रूप से बाजार का निर्माण चल रहा था। यह देख एसएसपी ने स्थानीय पुलिस की जमकर क्लास ली और पूरे इलाके की गहनता से जांच कर रिपोर्ट तैयार करने को कहा।

चौंकाने वाली बात यह कि आतंकी निशाने पर रहे काशी विश्वनाथ मंदिर से चंद कदम दूरी पर जमीन के नीचे हो रहे काम की भनक न तो विकास प्राधिकरण को लगी और न ही नगर निगम को। दो दिन पहले एसएसपी से किसी ने गोपनीय शिकायत की थी कि चौक थाने के बगल से दालमंडी में प्रवेश करने पर एक धार्मिक स्थल के पास स्थित कटरे नीचे से पूरा बाजार विकसित किया जा रहा है। दिन में बाजार में भीड़भाड़ होने के कारण एसएसपी रात में जांच करने का निर्णय लिया। फोर्स के साथ एसएसपी कटरे के पास पहुंचे। नीचे उतरने के बाद काफी दूरी तक बेसमेंट में पूरा बाजार विकसित मिला। कई दुकानों का निर्माण कार्य चल रहा था तो कुछ दुकानों में शटर लगे थे। हैरान एसएसपी बेसमेंट में उतरे और यह देख हैरान रह गए कि कटरे का मुहाना दालमंडी से शुरू हुआ और करीब दो सौ मीटर की दूरी पर जाकर खत्म हुआ। बेसमेंट में एक दूसरे से जुड़कर कई कटरे बने थे। इसके बाद एसएसपी ने आसपास के अन्य कटरों की छानबीन शुरू की। जैसे-जैसे पड़ताल बढ़ती गई पुलिस की हैरानी भी बढ़ती गई। आलम यह कि मस्जिद के आसपास भी खोदाई कर बेसमेंट में कटरा बनता मिला।

क्या कहते हैं अफसर

दालमंडी इलाके में जमीन के नीचे अवैध निर्माण की पुलिस ने कोई जानकारी नहीं दी है। कुछ लोगों ने फोन करके बताया है। अवैध निर्माण की जांच के निर्देश दिए हैं। यह देखा जाएगा कि आखिर किस आधार पर निर्माण किया जा रहा है। ऐसे भवनों को न केवल सील किया जाएगा बल्कि उन्हें गिराने की कार्रवाई भी की जाएगी।

विशाल सिंह सचिव वीडीए

इलाके की नए सिरे से जांच करायी जाएगी। यदि जमीन के नीचे अवैध निर्माण किया जा रहा है तो ऐसे भवनों पर सख्त कार्रवाई होगी।

योगेश्वर राम मिश्र डीएम

वाकई खतरनाक स्थिति देखने को मिली। अंदाजा नहीं था कि दालमंडी में जमीन से बीस फीट नीचे बाजार विकसित किया जा रहा है। पूरे इलाके की जांच के निर्देश दिए गए हैं। वीडीए व नगर निगम को रिपोर्ट भेजी जाएगी। साथ ही पुलिस अपने स्तर से कार्रवाई करेगी।

आरके भारद्वाज, एसएसपी

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया