जब प्रेमि‍का ने रखी ये शर्त, युवक ने अपने प‍िता का कर दिया कत्ल

Updated on: 21 April, 2019 04:21 PM

परतापुर के काजमाबाद में हुई डाकिए की हत्या का चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। बेटे ने ही बाप की सरकारी नौकरी पाने के लिए अपने दोस्त के साथ मिलकर हत्या की थी। बड़े भाई की साली से मृतक के बेटे का अफेयर चल रहा है। प्रेमिका ने सरकारी नौकरी लगने की शर्त पर ही शादी करने की बात कही थी। इसके चलते युवक ने घटना को अंजाम दिया। उसने सीआरपीएफ की परीक्षा में फेल होने के बाद अपने पिता को मारने का प्लान बना लिया था। पुलिस ने सीआरपीएफ की नकली वर्दी भी बरामद कर ली है।

एसपी सिटी ऑफिस में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में एसपी सिटी मान सिंह चौहान ने बताया कि एक फरवरी को काजमाबाद में पोस्टमैन चंद्रपाल की खेत में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इसके बाद चाकू से गर्दन काट दी गई थी। मामले में परतापुर थाने में मुकदमा कायम कराया गया था।

एसपी सिटी ने बताया कि डाकिए की हत्या उनके बेटे तरुण उर्फ हनी निवासी काजमाबाद गून ने अपने दोस्त सनी निवासी काजमाबाद गून के साथ मिलकर कर दी थी। पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि बड़े भाई की साली मोदीनगर निवासी प्रियंका से तरुण का अफेयर चल रहा है।  प्रियंका ने शर्त रखी कि जब सरकारी नौकरी लगेगी तब ही शादी करेगी। इसके बाद तरुण उर्फ हनी ने सीआरपीएफ रामपुर में तैनाती के लिए 2016 में परीक्षा दी, जिसमें पास हो गया था लेकिन मेडिकल में वह फेल हो गया। उसने गांव में और परिवार को झूठ बोल रखा था कि सीआरपीएफ में नौकरी लग गई। काफी दिनों से पिता चंद्रपाल वेतन की बात भी पूछ रहे थे लेकिन लगातार तरुण घर वालों से जल्द वेतन मिलने की बात को कहकर टाल रहा था।

चंद्रपाल को शक होने पर भेद खुल गया। प्रियंका ने भी शादी करने से मना कर दिया था। इसके बाद तरुण ने प्रियंका को पाने के लिए अपने पिता चंद्रपाल की हत्या कर सरकारी नौकरी पाने का प्लान बनाया। इसमें उसने अपने दोस्त सनी की मदद ली। एक फरवरी को खेत में गए चंद्रपाल की पहले पिटाई करके घायल कर दिया। इसके बाद चाकू से गला काटकर हत्या कर दी। एसपी सिटी ने बताया कि तरुण का प्लान था कि पिता की हत्या करने के बाद उसको सरकारी नौकरी मिल जाएगी

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया