मालदीव संकट: पीएम मोदी और ट्रंप ने की बातचीत, जताई चिंता

Updated on: 16 October, 2019 11:05 AM

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और पीएम मोदी ने अफगानिस्तान, म्यांमार, मालदीव तथा उत्तर कोरिया के मुद्दे पर चर्चा की है। व्हाइट हाउस की ओर से एक बयान जारी कर कहा गया है कि दोनों नेताओं ने फोन पर बातचीत की है। इस दौरान दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान में युद्ध, मालदीव में राजनीतिक संकट, म्यांमार के रोहिंग्या शरणार्थियों की दुर्दशा तथा उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम पर चर्चा की है।

गौरतलब है कि सोमवार को मालदीव में राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन अब्दुल ग़यूम ने 15 दिनों के आपातकाल की घोषणा कर दी है।आपातकाल घोषित किए जाने के बाद पुलिस ने देश के मुख्य न्यायाधीश अब्दुल्ला सईद को गिरफ़्तार कर लिया है। तब से यहां राजनीतिक गतिरोध बना हुआ है।

चीन ने मालदीव पर बदला सुर,  वार्ता पर दिया जोर

चीन ने मालदीव में संयुक्त राष्ट्र के किसी भी तरह के हस्तक्षेप का विरोध किया। हालांकि विदेशी हस्तक्षेप पर अपना सुर थोड़ा नरम करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय राजनीतिक संकट के समाधान में मालदीव के दलों के लिए ''समर्थन और सुविधा मुहैया करा सकता है। 

चीन ने कहा है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को मालदीव की संप्रभुता एवं क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करना चाहिए और संबंधित दलों के बीच वार्ता को लेकर मदद मुहैया कर इस संबंध में एक सकारात्मक भूमिका निभानी चाहिए। चीन ने पहले किसी भी अंतरराष्ट्रीय भूमिका का विरोध करते हुए कहा था कि संकट को संबंधित दलों द्वारा आपस में सुलझाना चाहिए । यह साफ नहीं है क्या चीन यामीन और पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद और ममून अब्दुल गयूम के बीच वार्ता आयोजित करने के लिए मध्यस्थ की भूमिका निभाना चाहता है या नहीं ।
 

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया