अवैध संबंधों के शक में पंचायत में महिला की पेड़ से बांधकर पिटाई-

Updated on: 15 October, 2019 12:56 PM

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावूजद पंचायतों के तुगलकी फरमान आज भी जारी हैं। स्याना कोतवाली क्षेत्र के गांव लौंगा में अवैध संबंधों के शक में पंचायत के फरमान पर एक महिला को पेड़ से बांधकर बेहरहमी से पीटा गया। चार घंटे तक कई लोगों ने बारी-बारी महिला की बेल्टों एवं डंडों से पिटाई की। इस दौरान लोगों का मजमा तो लगा रहा, पर किसी ने पीड़िता को बचाने का प्रयास नहीं किया। मामले का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस को घटना का पता चला। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर पति सहित सात नामजद समेत 19 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गांव लौंगा की एक महिला अपनी मर्जी से गांव के ही युवक के साथ मौसा के यहां चली गई थी। इसको लेकर गांव के कुछ लोगों ने पंचायत कर महिला पर युवक के साथ अवैध संबंधों का आरोप लगाया। महिला को 10 मार्च को उसके मायके से लाया गया और पंचों के फरमान पर गांव के चौराहे पर पेड़ से बांधकर महिला को करीब चार घंटे तक बेल्टों एवं डंडों से पीटा गया। महिला के साथ अश्लील हरकतें भी की गईं। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस को घटना का पता चला। इसके बाद पीड़िता महिला की तहरीर के आधार पर पूर्व प्रधान शेर सिंह, राधेश्याम, श्रवण, नन्हे, जीतू, नरेश, श्यौदान सिंह के अलावा 12 अज्ञात लोगों के रिपोर्ट दर्ज कर ली गई। कोतवाली पुलिस ने आरोपी पूर्व प्रधान शेर सिंह, श्रवण एवं श्यौदान सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

एसएसपी मुनिराज जी. ने बताया कि पंचायत के फरमान पर महिला को पेड़ से बांधकर पीटने का मामला संज्ञान में आया है। पीड़िता की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर पति सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पीड़ित महिला के मेडिकल जांच एवं बयान दर्ज कराने की कार्रवाई की जा रही है। मामले में कोतवाली पुलिस को सभी दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया