आजादी मांगनेवालों को आर्मी चीफ रावत की नसीहत- सेना से नहीं लड़ सकते

Updated on: 29 March, 2020 01:25 AM

आजादी मांगनेवालों को आर्मी चीफ रावत की नसीहत- सेना से नहीं लड़ सकतेकश्मीर में आज़ादी के नारे लगानेवाले युवाओं से आर्मी चीफ विपिन रावत ने कहा कि यह कभी नहीं मिलनेवाली है और ना ही वे सेना के साथ लड़ सकते हैं। ये बात कश्मीरी युवाओं को जानना जरूरी है।

इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू में रावत ने बंदूक उठा रहे युवा और पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि जो लोग उन्हें ये बात कह रहे हैं कि ऐसा करने से आजादी मिलेगी वह उन्हें भटका रहे हैं।

आर्मी चीफ ने कहा उनके लिए यह बात कोई मायने नहीं रखती है कि सेना के साथ मुठभेड़ में कितनी संख्या में आतंकी मारे गए। उन्होंने कहा कि यह चक्र चलता रहेगा। इसमें फिर से नई भर्तियां होंगी। उन्होंने कहा कि मैं इस बात पर जोर देना चाहता हूं कि व्यर्थ है। इससे कुछ भी हासिल नहीं होनेवाला है। 

जनरल रावत ने कहा कि वे वहां पर हो रही मौतों से व्यथित हैं। रावत ने कहा- हम इसे एन्ज्वाय नहीं करते हैं। लेकिन, आप अगर हम से लड़ना चाहते हैं तो फिर हम पूरी ताकत के साथ मुकाबला करेंगे। कश्मीरियों को यह समझना होगा कि सेना सीरिया और पाकिस्तान के तरह निर्दय नहीं है। वे उसी स्थिति में टैंक और हवाई हमलों का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन, हमारे जवान भारी उकसावे के  बावजूद नागरिकों के जानमाल के नुकसान को बचाना चाहते हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया