हिंसा और बूथ कैप्चरिंग के बीच शुरू हुआ पश्चिम बंगाल का पंचायत चुनाव

Updated on: 12 November, 2019 10:16 AM

.हफ्तों भर की अनिश्चितता के बाद आखिरकार पश्चिम बंगाल का पंचायत चुनाव सोमवार की सुबह सात बजे राज्य के कई हिस्सों में हिंसा और बूथ कब्जा करने की शुरू हुआ। सुबह 6 बजे से मतदाने केन्द्रों में लंबी लाइन देखी गई जिसमें ज्यादातर महिलाएं थीं। इस चुनाव में बैलेट पेपर का इस्तेमाल किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों और राजनीतिक पार्टियों से अपील करते हुए कहा है कि पंचायत चुनाव में शांतिपूर्वक हिस्सा लें। इस चुनाव में 1,54,500 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। इनमें बंगाल पुलिस, सिविक वालेंटियर्स के साथ ही सिक्किम, उड़ीसा, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना की पुलिस को लगाया गया है। इसी के साथ, पुलिस ने झारखंड से लगती हुई सीमा को भी सील कर दिया है।

कई जगहों पर हिंसा की खबरें आयी है। नॉर्थ 24 परगना जिले के बागड़ा में बैलेट पेपर पर स्टांप मारते हुए 9 बदमाशों को गांववालों ने पकड़कर पहले उनकी पिटाई की और उसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया। जिन्हें बाद में अस्पताल भेजा गया।
 
गांववालों का आरोप है कि जिस वक्त उनका उन गुंडों से सामना हुआ, उन्होंने क्रूड बॉम्ब फेंके और वहां से भागने की कोशिश की। बंगाल के खाद्य मंत्री ज्योतिप्रियो मुल्लिक ने आरोप लगाया कि बीजेपी बांग्लादेश से सैकड़ों को लोगों को लेकर आयी है ताकि हिंसा हो। बीजेपी के बंगाल प्रसिडेंट दिलीप घोष ने कहा- “ज्यादातर हिंसा की ख़बर दक्षिण बंगाल में दर्ज की गई है। नॉर्थ बंगाल तुलनात्मक रूप से शांत है।”

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया