अविश्वास प्रस्ताव: नीतीश कुमार मोदी के साथ, पर शिवसेना लोकसभा से नदारद

Updated on: 19 November, 2019 02:19 PM

लोकसभा में नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर बहस चल रही है। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही टीडीपी ने मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। जिसके बाद इस पर बहस शुरू हुई। टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला ने प्रस्ताव पेश किया है। उन्होंने प्रस्ताव पेश करते हुए कहा , 'आंध्र प्रदेश के साथ न्याय नहीं हुआ। हमारे साथ सरकार ने भेदभाव किया है।' बता दें, मोदी सरकार के खिलाफ यह अविश्वास प्रस्ताव टीडीपी ही लेकर आई है। टीडीपी के इस प्रस्ताव का कांग्रेस, टीएमसी, सपा सहित कई विपक्षी पार्टियां समर्थन कर रही हैं।

भारतीय जनता पार्टी की महाराष्ट्र में सहयोगी पार्टी शिवसेना ने सदन की कार्यवाही में हिस्सा ना लेने का फैसला किया है। शिवसेना ने गुरुवार को पहले व्हिप जारी कर सांसदों को लोकसभा में मौजूद रहने का आदेश दिया था। लेकिन बाद में यह व्हिप वापस ले लिया गया। फिर शुक्रवार सुबह लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले शिवसेना ने लोकसभा से गायब रहने का फैसला किया। शिवसेना के लोकसभा में 18 सदस्य हैं।

वहीं बिहार के सीएम और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा है कि हम लोग नरेंद्र मोदी सरकार के साथ हैं। नीतीश ने कहा कि हमारे सांसद अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ वोट करेंगे। बता दें, लोकसभा में जदयू के दो सांसद हैं। ये नालंदा से कौशलेंद्र कुमार और पूर्णिया से संतोष कुमार हैं।

इसके अलावा लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही बिजू जनता दल (बीजेडी) के सदस्यों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। बीजेडी के 18 लोकसभा सांसद हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया