शर्मनाकः अनाथालय की लड़की से छेड़छाड़, मंडावली में नौकरी के नाम पर महिला से रेप

Updated on: 18 July, 2019 09:08 AM

पश्चिमी दिल्ली के नारायणा विहार स्थित एक कंप्यूटर इंस्टीट्यूट में शिक्षक तीन महीने से अनाथ नाबालिग छात्रा के साथ छेड़छाड़ कर रहा था। शिक्षक की हरकत से परेशान होकर पीड़िता ने अनाथालय की महिला कर्मचारियों को इसकी जानकारी दी, जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। नारायणा थाना पुलिस ने केस दर्ज कर रविवार को आरोपी शिक्षक दिनेश को गिरफ्तार कर लिया है।

पीडि़ता कमला नगर में रहती है
पुलिस के अनुसार, 17 वर्षीय पीड़ित छात्रा अनाथ है और वह कमला नगर स्थित एक अनाथालय में रहती है। छात्रा छह माह से नारायणा विहार स्थित कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर में पढ़ने जाती है। कंप्यूटर सेंटर को दिनेश और उसकी पत्नी चलाते हैं। दिनेश सेंटर में छात्राओं को कंप्यूटर की पढ़ाई भी कराता है। आरोप है कि बीते तीन माह से दिनेश छात्रा को अकेला पाकर उसके साथ छेड़छाड़ करता था। इससे परेशान होकर कुछ दिनों से छात्रा कंप्यूटर सेंटर नहीं जा रही थी।

पीड़िता ने महिला कर्मचारियों को जानकारी दी
अनाथालय में काम करने वाली महिला कर्मचारियों ने जब पीड़ित छात्रा से कंप्यूटर सेंटर नहीं जाने का कारण पूछा तो उसने पूरी बात उन्हें बता दी, जिसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर केस दर्ज कर बाकी छात्राओं से भी पूछताछ की। इसके बाद रविवार को आरोपी दिनेश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस दिनेश से पूछताछ कर रही है।

नौकरी का सांझा दे किया रेप

वहीं दूसरी ओर पूर्वी दिल्ली में नौकरी का झांसा दे महिला से रेप की बात सामने आई है। घटना मंडावली इलाके की है। पीड़िता की शिकायत पर मंडावली थाने की पुलिस ने शनिवार को रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

आरोपी की पहचान राजेश कुमार जैन के रूप में हुई है। वह पांडव नगर में कंपनी चलाता है। आरोपी एक नेता का भाई भी बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार, 32 वर्षीय पीड़िता परिवार के साथ कृष्णा नगर में रहती हैं। पीड़िता ने एक युवक से लव मैरिज की थी, लेकिन पति से विवाद के चलते वह डेढ़ साल से मायके में ही रह रही हैं। जुलाई माह में पीड़िता इंटरनेट के जरिए नौकरी खोज कर रही थी। इसी दौरान पीड़िता को कॉम एंड संस नाम की कंपनी का पता चला, जिसका पता पांडव नगर में जैन मंदिर के पास दिया हुआ था। 13 जुलाई को पीड़िता कंपनी में पहुंची, जहां उसकी मुलाकात कंपनी के मालिक राजेश कुमार जैन से हुई। राजेश ने बातचीत के लिए पीड़िता को अपने घर बुलाया। 16 जुलाई को पीड़िता उसके घर गई। आरोप है कि इस दौरान राजेश ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

पीड़िता के अनुसार, राजेश ने उल्टा उसकी शिकायत मंडवाली थाने में कर दी। मंडावली थाने से संदीप नाम के एक पुलिसकर्मी का फोन आया और उसने थाने बुलाया। आरोप है कि संदीप ने जेल भेजने की धमकी देकर अपने हिसाब से बोलकर उससे बयान लिखवा लिए। 9 अगस्त को पीड़िता ने मंडावली थाने में शिकायत दी, जिसके बाद पुलिस ने दुष्कर्म का केस दर्ज कर लिया।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया