ट्रंप के मीडिया पर हमलों के खिलाफ 350 अखबार खड़े हुए

Updated on: 22 August, 2019 11:02 AM

अमेरिका में कम से कम 350 समाचार संस्थानों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा मीडिया पर हमले का सामना करने और स्वतंत्र मीडिया के पक्ष में एक अभियान शुरू किया है।

अमेरिकी समाचार पत्र अपनी खबरों को फर्जी और पत्रकारों को जनता का दुश्मन बताए जाने के खिलाफ गुरुवार को अखबारों ने खाली जगह छोड़ी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यह अभियान मीडिया के खिलाफ राष्ट्रपति के ‘डर्टी वॉर’ की राष्ट्रव्यापी निंदा के लिए बॉस्टन ग्लोब द्वारा शुरू किया गया। इसमें हैशटैग एनेमीऑफनन का प्रयोग किया गया।

इसने ‘प्रशासन द्वारा प्रेस पर हमले के खतरों को लेकर’ एक संपादकीय लिखने का संकल्प लिया और दूसरों से भी ऐसा करने को कहा। यह अभियान इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इसने ही वाशिंगटन और न्यूयॉर्क की सीमा से बाहर निकालकर देशभर के समुदायों को ट्रंप के हमलों को लेकर संवाद शुरू किया है।

ट्रंप अक्सर मीडिया खबरों को ‘झूठी खबरें’ (फेक न्यूज) बताते हैं और पत्रकारों को लोगों का दुशमन करार देते हैं। शुरू में 100 समाचार संगठनों से मिली सकरात्मक प्रतिक्रिया 350 संगठनों तक पहुंच गई, जिसमें अमेरिका के प्रमुख समाचार पत्रों से लेकर छोटे स्थानीय अखबारों ने ट्रंप के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की।

इसमें उन्हें अंतरार्ष्ट्रीय प्रकाशक जैसे ब्रिटेन के समाचार पत्र द गार्डियन का भी समर्थन हासिल हुआ।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया