केरल बाढ़ लाइव : मुंबई से 55 और पुणे से 26 डॉक्टर्स की टीम दवाइयों से साथ तिरुअनंतपुरम रवाना

Updated on: 20 November, 2019 03:23 AM

केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों में हजारों लोग अब भी सुरक्षित निकाले जाने की आस लगाए हुए हैं। अलप्पुझा, त्रिशूर और एर्णाकुलम जिलों के कई इलाकों में अब भी कई लोग अपने घरों में फंसे हुए हैं, जहां उनके पास भोजन और पानी की कोई व्यवस्था नहीं है।  राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा कि इस दक्षिणी राज्य में अगले चार दिन तक भारी बारिश नहीं होगी। मालूम हो कि बाढ़ के चलते अब तक 357 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है। और लाखों लोग बेघर हो गए हैं।

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीआरएफ) के मुताबिक, बाढ़ प्रभावित इलाकों से विभिन्न एजेंसियों ने 33,000 से ज्यादा लोगों को बाहर निकाला है। वहीं, राहत शिविरों में करीब छह लाख लोग मौजूद हैं। वहीं, रविवार को नौसेना का विमान भारी मात्रा में राशन-पानी लेकर पहुंचा।

बीमारियां फैलने की आशंका

केरल में आई भीषण बाढ़ की वजह से कई तरह की बीमारियां फैलने की आशंका भी पैदा हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा ने बताया कि केरल के हालात पर हमारी लगातार निगाह है। स्वास्थ्य सचिव डिजीज सर्विलांस नेटवर्क के जरिये स्थिति की निगरानी कर रही हैं।

बाढ़ पीड़ितों को एक दिन का वेतन देंगे छत्तीसगढ़ के पुलिस अफसर
केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए छत्तीसगढ़ के पुलिस अफसरों ने अपना एक दिन का वेतन देने की घोषणा की है। केरल में सदी के भीषण बाढ़ में देश-दुनिया के लोग मदद का हाथ बढ़ा रहे हैं। अब इसमें छत्तीसगढ़ आइपीएस एसोसिएशन और राज्य पुलिस एसोसिएशन भी सामने आया है। अफसरों ने बताया कि उन्होंने एक दिन का वेतन केरल आपदा फंड में देने का निर्णय लिया है। राज्य सेवा के पुलिस अधिकारियों ने भी अपना वेतन केरल के मुख्यमंत्री आपदा कोष में देने का निर्णय लिया है।
केरल: हजारों लोगों को मदद का इंतजार, कई अपने घरों में भूखे-प्यासे कैद

सभी जिलों से हटाया गया ऑरेंज अलर्ट
इस बीच केरल के सभी जिलों को ऑरेंज अलर्ट हटा लिया गया है। जबकि इडुक्की, कोजीकोड, कन्नूर में येलो अलर्ट जारी है। मौसम विभाग के अनुसार, केरल में इस मानसून में सामान्य से 42 फीसद ज्यादा बारिश हुई है। वहीं सर्वाधिक प्रभावित जिले इडुक्की में सामान्य से 92 फीसद ज्यादा और पलक्कड में समान्य से 72 फीसद ज्यादा बारिश हुई है।

अगले 5 दिनों में कम होगी बारिश
मौसम विभाग के अधिकारी मृत्युंजय महापात्रा ने बताया है कि आने वाले 4-5 दिनों में केरल में भारी बारिश का स्तर कम होगा और धीरे-धीरे यहां का जलस्तर भी कम हो जाएगा। केरल में 8 अगस्त से हो रही तेज बारिश के चलते वहां आई बाढ़ और भूस्खलन से राज्य मे हाहाकार मचा हुआ है।

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने केरल बाढ़ को लेकर राज्यसभा के सभी अधिकारियों की बैठक बुलाई और एक-एक महीने की सैलरी दान करने का फैसला किया।

केरल बाढ़ को लेकर केरल मुख्यमंत्री राहत कोष में अपनी एक महीने की सैलरी देंगे शिवसेना के सभी सांसद

चेंगन्नूर में बाढ़ राहत कैंप में बाढ़ पीड़ितों को खिलाया जा रहा है खाना

कोच्चि में बाढ़ से इंटरनेशनल हवाई अड्डा बंद होने के कारम आईएनएस गरुड़ कोच्चि नेवी एयर स्टेशन से कमर्शियल फ्लाइट सेवा शुरू।

 
60 टन दवाइयां हिंडन से तिरुअनंतपुरम भेजे गए हैं। इसके अलावा 70 डॉक्टर और 30 हेल्पिंग स्टाफ दवाइयों के साथ मुंबई से भेजे गए हैं। 
100 टन दाल हिंडन से कोच्चि भेजे गए हैं।
जालंधर से भेजा गया खाना
 राष्ट्रीय आपद प्रबंधन प्राधिकरण ने ट्वीट कर बताया कि हिंडन से एनडीआरएफ की 18 टीम, 2062 लाइफ जैकेट पुणे और अहमदाबाद से तिरुअनंतपुरम के लिए भेजे गए हैं।  साथ ही ये भी बताया कि कोस्ट गार्ड के 6 नाव चेन्नई से तिरुअनंतपुरम के लिए भेजे गए हैं। इसके अलावा बीएसएफ के 6 नाव कोलकाता से विजाग भेजे गए हैं।

हैदराबाद से भेजा गया 50 आरओ प्लांट और 7 टन मिल्क पाउडर
राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने ट्वीट कर बताया कि तिरुअनंतपुरम के लिए हलवारा से 33 टन खाने के पैकेट और हैदराबाद से 50 आरओ और 7 टन दूध के पाउडर भेजे गए हैं।

बाढ़ राहत कोष में मुंबई से तिरुअनंतपुरम भेजा गया 28.5 टन खना और अन्य राहत का सामान। जबकि 4 टन पैकेज्ड खाना मैसुरु से तिरुअनंतपुरम के लिए भेजा गया।

 बाढ़ से कोच्चि अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे प्रभावित, पहली बार आईएनएस गरूड़ कोच्चि नवल एयर स्टेशन पर लैंड कराया गा पहला कमर्शियल फ्लाइट।

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के सांसद देंगे एक महीने की सैलरी
टीआरएस के सांसद अपनी एक महीने की सैलरी केरल मुख्यमंत्री बाढ़ राहत कोष में दान करेंगे।

 
तेलंगाना के डिप्टी सीएम देंगे एक दिन की सैलरी
तेलंगाना के उपमुख्यमंत्री मोहम्मद महमूद अली ने बाढ़ प्रभावित केरल को अपनी एक महीने की सैलरी दान करने का फैसला किया है।
बाढ़ से राहत के लिए असम देगी 3 करोड़ की सहायता राशि
असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार केरल में बाढ़ राहत कोष के लिए 3 करोड़ की रुपये की मदद करेगी। यहां पिछले 10 दिनों नें बाढ़ से 210 लगों की मौत हो गई है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया