रंगदारी न देने पर कमिश्नर आवास के सामने 5 लोगों को मारी गोलियां

Updated on: 19 October, 2019 11:03 AM
रंगदारी देने से इनकार करने पर बुधवार की रात 10 बजे तीन बाइक से पहुंचे आधा दर्जन बदमाशों ने पल्स क्लीनिक के केयर टेकर और उसके 4 साथियों को अंधाधुंध गोलियां बरसा कर घायल कर दिया। वारदात के बाद हमलावर फरार हो गए। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। इनमें से चार की हालत गंभीर देख डाक्टरों ने मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। केयर टेकर ने इस मामले में बेलघाट क्षेत्र के शातिर बदमाश सूरज सिंह समेत 6 लोगों के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी शुरू कर दी है। कैंट थाना क्षेत्र स्थित बेतियाहाता निवासी शिवप्रताप सिंह का पुत्र रमन सिंह पल्स क्लीनिक का केयरटेकर है। बुधवार की सुबह तकरीबन 10 बजे उसके मोबाइल पर फोन आया। फोन करने वाले ने अपना नाम सूरज सिंह बताया। उसने फोन पर रमन को धमकी देते हुए कहा कि खूब रुपये कमा रहे हो। मेरे पास भी पहुंचाओ नहीं तो खैर नहीं। रमन ने फोन काट दिया। रात में 9:20 बजे रमन के मोबाइल पर सूरज का दुबारा फोन आया। उसने पुन: रंगदारी मांगी और न देने पर परिणाम भुगतने को कहा। इस बात को लेकर रमन सिंह की उससे कहासुनी हो गई। तकरीबन 10 बजे रमन सिंह अपने साथ अलहदादपुर निवासी रमाकांत का पुत्र संदीप चौहान, सीताराम के पुत्र रमेश उर्फ गुड्डू, रुस्तमपुर निवासी संतोष सिंह का पुत्र शुभम सिंह और बेतियाहाता निवासी गिरिजेश के पुत्र श्रीप्रकाश सिंह के साथ मंडलायुक्त आवास के सामने से गुजर रहा था। इसी बीच बेतियाहाता हनुमान मंदिर की तरफ से बुलेट, पल्सर तथा एक अन्य बाइक से आधा दर्जन युवक पहुंचे। रमन तथा उसके साथियों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से रमन सिंह और उसके चारो साथी घायल हो गए। हमलावर फायरिंग करते हुए बेतियाहाता चौराहे की तरफ निकल गए। गोली चलने की सूचना पाकर पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। घायलों को जिला अस्पताल ले जाया गया। गोरखपुर के एसएसपी शलभ माथुर ने बताया, ‘‘दोनों पक्ष एक-दूसरे के परिचित हैं। रंगदारी न देने पर हमला किए जाने की शिकायत हुई है। हमलावरों के नाम-पते मालूम हो गए हैं। शहर से लेकर देहात तक उनकी गिरफ्तारी के लिए छापे डाले जा रहे हैं।’’ डाक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद रमन सिंह को छोड़ कर अन्य चारों को मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। जिला अस्पताल में पहुंचे एसएसपी शलभ माथुर, एसपी सिटी विनय सिंह, सीओ कैंट प्रभात राय ने रमन सिंह बात की। रमन सिंह ने सूरज और उसके तीन अन्य साथियों का नाम पुलिस को बताया। पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी के लिए छापामारी शुरू कर दी है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया