भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर की रिहाई राजनीतिक दांव: ओमप्रकाश राजभर

Updated on: 19 June, 2019 07:23 PM
सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा है कि चंद्रशेखर की रिहाई राजनीतिक दांव है। इनका पार्टी (भाजपा) में क्या योगदान रहा है। भाजपा को सत्ता में पहुंचाने वाले हजारों नौजवान जेल में हैं, उन्हें छोड़ा जाता। चुनाव आ गया है अब दलों द्वारा बड़े-बड़े दांव चले जाएंगे। ओमप्रकाश राजभर ने पार्टी के स्थापना दिवस पर 27 अक्टूबर को रमाबाई अंबेडकर मैदान में होने वाली रैली के तैयारियों की समीक्षा बुधवार को दारुलशफा में की। पत्रकारों से बातचीत में राजभर ने कहा कि कल तक हम अंग्रेजों के गुलाम थे आज नेताओं के गुलाम हैं। भाजपा का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि कल तक लोग कहते थे कि हम जातिवाद नहीं करते हैं। लखनऊ में पार्टियां जातियों का सम्मेलन कर रही हैं, होर्डिंग लग रहे हैं। क्या यह जातिवाद नहीं है? चेतावनी दी कि जनता बहुत जागरूक है। वह अपना हित सोचने लगी है। भाजपा के साथ हैं, हिस्सा नहीं मिलेगा तो चिल्लाएंगे ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि हम सरकार के साथ हैं। वर्ष 2019 में ही नहीं बल्कि 2024 में भी भाजपा के साथ हैं। परिवार में हिस्सा नहीं मिलेगा तो हम चिल्लाएंगे। उन्होंने सवाल किया कि अति पिछड़ा सामाजिक न्याय कमेटी के बने तीन-चार महीने हो गए उसकी रिपोर्ट क्या है, कोई बताने को तैयार नहीं है। समाज को धोखे में रखा जा रहा है। सभी जाति के गरीबों के आरक्षण के लिए लड़ेंगे मंत्री राजभर ने कहा कि पिछड़ी जाति के आरक्षण को तीन हिस्सों में बांटने और प्रदेश में शराबबंदी के लिए उनकी लड़ाई जारी रहेगी। आने वाले दिनों में सर्वेक्षण के आधार पर आर्थिक आधार पर सभी जाति के गरीबों के आरक्षण के लिए लड़ेंगे। स्नातकोत्तर तक सभी जाति के युवक-युवतियों को मुफ्त शिक्षा और पिछड़ी और सामान्य जाति के छात्रों के लिए भी नि:शुल्क कोचिंग की व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि एससीएसटी का मुकदमा जांच के बाद ही दर्ज किया जाए। दहेज उत्पीड़न के मामलों में निर्दोष ना फंसे इसकी व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि वह तीन तलाक और मंदिर-मस्जिद पर बहस नहीं करना चाहते हैं। उनकी बहस अशिक्षित लोगों को शिक्षित करने और रोजगार देने पर है। प्रदेश को चार हिस्सों में बांटने के लिए करेंगे आंदोलन समीक्षा के दौरान प्रदेश को पूर्वांचल, बुंदेलखंड, पश्चिम प्रदेश तथा रूहेलखंड के नाम पर चार हिस्सों में बांटने का प्रस्ताव रखा गया। मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने इसके लिए कार्यकर्ताओं को आंदोलन करने का निर्देश दिया। बूथ स्तर तक संगठन को मजबूत बनाने का निर्देश भी दिया।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया