भारत ने इस्लामिक देशों के साथ कश्मीर मुद्दा उठाने पर पाकिस्तान को लताड़ा

Updated on: 10 December, 2019 02:47 AM
भारत ने इस्लामिक देशों के संगठन (ओआईसी) की बैठक में कश्मीर मुद्दा उठाने पर पाकिस्तान को लताड़ लगाई है। भारत ने कश्मीर मुद्दा उठाने पर आपत्ति जताई। साथ ही कहा कि यह समूह के साथ-साथ उसके सदस्य देशों के लिए पूरी तरह अनुचित है कि किसी भी बहु-संगठन व्यवस्था में भारत के आंतरिक मामलों पर चर्चा की जाए। पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73वें सत्र के इतर बुधवार को हुई ओआईसी संपर्क समूह की बैठक में कश्मीर का राग अलापा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां कहा, हम इस बात पर खेद व्यक्त करते हैं कि भारत के आंतरिक मामले से जुड़े मुद्दे पर एक बार फिर ओआईसी में चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि भारत अपने आंतरिक मामलों का इस तरह जिक्र करने को स्वीकार नहीं करता है। दक्षेस सम्मेलन में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष के बीच किसी तरह की बातचीत की संभावना पर कुमार ने कहा, यह हमने पूरी तरह स्पष्ट कर दिया है कि यह भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय बैठक नहीं है। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में कोई स्वीकार्यता नहीं पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी द्वारा कश्मीर मुद्दा उठाए जाने के बारे में पूछे जाने पर रवीश कुमार ने कहा कि इस्लामाबाद लंबे समय से ऐसा करता रहा है। उन्होंने कहा, यह पहली बार नहीं है कि वे अपनी द्विपक्षीय बैठकों में यह मुद्दा उठा रहे हैं। आप पाएंगे कि पाकिस्तान हमेशा एकतरफा कहानी कहते हैं। वह जो भी साझा करते या कहते हैं उसकी अंतरराष्ट्रीय समुदाय में कहीं भी कोई स्वीकार्यता नहीं है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को यह अहसास हो गया है कि उसके झूठ और वह जो भी कह रहा है उसे अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने पहले ही खारिज कर दिया है। कई देशों के साथ विदेश मंत्री की द्विपक्षीय बैठक विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार कोजर्मनी, बोलिविया,अर्मेनिया, पनामा, ऑस्ट्रिया, एंटीगुआ और बारबुडा, चिली और ईरान के अपने समकक्षों समेत नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली के साथ द्विपक्षीय बैठक की। कुमार ने ट्वीट किया, 'एकदम अलग किस्म का संबंध। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली से मुलाकात की। हमारे संबंधों को और नई ऊंचाईयों पर पहुंचाने के लिए सकारात्मक तथा दोस्ताना बातचीत।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया