मेरठ: अवैध हथियार की फैक्ट्री का पर्दाफाश, 5 अरेस्ट, 84 पिस्टल बरामद

Updated on: 19 August, 2019 01:28 AM
दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को मिली बड़ी कामयाबी है। यूपी के मेरठ में चल रही अवैध हथियारों की एक बड़ी फैक्ट्री पर्दाफास किया है। पुलिस ने इ संबंध में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्ज़े से करीब 84 हथियार और बड़ी मात्रा में हथियार बनाने वाला रॉ मैटेरियल बरामद किया है। मामले की जांच में जुटी पुलिस अब पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर इनके नेटवर्क से जुड़े हथियार तस्करी में लिप्त अन्य बदमाशो की तलाश में छापेमारी कर रही है। इस फैक्टरी को चलाने वाला सरगना सैदुल्लाह को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इसकी कई दिनों से दिल्ली पुलिस को तलाश थी। पुलिसै के मुताबिक सैदुल्लाह और उसका गैंग मुंगेर से रा मटेरियल लाकर मेरठ की फैक्ट्री में हथियार बनाते थे और यहीं से लोकल बदमाशो को बेचते थे। फिलहाल 5 लोगो को पुलिस ने किया है गिरफ्तार। इनके पास से 84 पिस्तौल बरामद किया गया है। कैसे हुआ इस फैक्ट्री का पर्दाफाश कुछ समय पहले दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने हथियार सप्लाई करने वाले कुछ तस्करों को दबोचा था। आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि ये अवैध हथियार और कारतूस मेरठ और मुंगेर से लाकर सप्लाई किये जा रहे है। दिल्ली पुलिस दानिश नाम के आरोपी को साथ लेकर मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के लक्खीपुरा गली नम्बर दो में पहुंची थी और पुलिस ने फुरकान नाम के मिस्त्री के घर दबिश दी तो यहां मकान के तहखाने में हथियार बनाने की एक फैक्ट्री का भंडाफोड़ हुआ। इस फैक्ट्री में पुलिस ने मुंगेर के रहने वाले ओवैसी हसन, मिंटू और सिद्धू को गिरफ्तार किया है। दिल्ली एनसीआर व वेस्ट यूपी में हथियारों की होती थी सप्लाई स्पेशल सेल के अनुसार पकड़े गये आरोपी काफी समय से मुंगेर की पिस्टल और तमंचे बना रहे थे। जोकि मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर समेत वेस्ट यूपी और एनसीआर में सप्लाई किये जा रहे थे। दिल्ली पुलिस ने इस फैक्ट्री से छापेमारी के दौरान मुंगेर ब्रांड की पचास पिस्टल तीस से ज्यादा अधबने तंमचे और भारी मात्रा में पुर्जे व औजार बरामद किये है। वही यह छापा पूरी तरह से गोपनीय रखा गया था, छापेमारी के बाद मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट थाने में कार्रवाई की गई।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया