नहीं बदला जाएगा इलाहाबाद बैंक का नाम, प्रबंध निदेशक ने लिया फैसला

Updated on: 25 August, 2019 01:13 PM
इलाहाबाद का नाम प्रयागराज भले ही हो गया लेकिन इलाहाबाद बैंक का नाम नहीं बदलेगा। स्थानीय स्तर पर पते में जिले के स्थान पर प्रयागराज लिखा जाएगा। यह बात इलाहाबाद बैंक के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यपालक सीएच एसएस मल्लिकार्जुन राव ने सोमवार यहां पत्रकारवार्ता में कही। इससे पूर्व सीएमडी ने थरवई के सहजीपुर में इलाहाबाद बैंक के नए अभियान की शुरुआत की जिसमें बैंक के अधिकारी गांव-मोहल्लों में कैंप लगाकर खाता खुलवाएंगे और खाताधारकों की समस्या का मौके पर समाधान करेंगे। थरवई के बाद एलनगंज स्थित इलाहाबाद बैंक की शाखा में सीएमडी ने ग्राहकों को योजना के बारे में जानकारी दी। सीएमडी ने कहा कि हर व्यस्क का खाता खोलना है। इसके लिए लोगों को बैंक तक आने का आवश्यकता नहीं होगी। बैंक ग्राहकों के पास जाएगा। बैंक के अधिकारी गांव और मोहल्लों में कैंप लगाएंगे। कैंप की सूचना पहले से दी जाएगी। कैंप में नया खाता खोलने के साथ ग्राहक की सभी समस्याओं का समाधान होगा। कैंप लगातार लगते रहेंगे। सीएमडी ने कहा कि बैंक का उद्देश्य ग्रामीण और कुटीर उद्योग को खत्म होने से बचाना है। कागजात सही हैं तो छोटे कर्ज का क्लियरेंस 59 मिनट में होगा। दो समारोह में सीएमडी ने 800 से अधिक ग्राहकों को 48 करोड़ रुपये का अलग-अलग ऋण प्रदान किया। समारोह में एलनगंज के पार्षद नितिन यादव, क्षेत्रीय महाप्रबंधक विवेक पडेगांवकर, उपमहाप्रबंधक हरिमोहन, एनके दास व मंडल प्रमुख शशिकांत दयाल के अलावा पूर्व पार्षद राजू शुक्ल, सामाजिक कार्यकर्ता घनश्याम मिश्र मौजूद रहे। कुम्भ का नोडल बैंक बना इलाहाबाद बैंक कुम्भ 2019 के लिए इलाहाबाद बैंक को नोडल बैंक बनाया गया है। कुम्भ के सभी सरकारी वित्तीय लेनदेन इलाहाबाद बैंक के माध्यम से होंगे। इलाहाबाद बैंक के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यपालक सीएच एसएस मल्लिकार्जुन राव ने बताया कि कुम्भ मेले में सभी बैंकों की शाखाएं होंगी। सभी के एटीएम लगेंगे। विदेशी करेंसी का लेनदेन भी होगा। कुम्भ के लिए इलाहाबाद बैंक की तैयारी पूरी है। बैंक प्रमुख ने कुम्भ की तैयारियों पर मंडलायुक्त डॉ आशीष गोयल और डीएम सुहास एलवाई के साथ मीटिंग की। बैंक पर 25 हजार 600 करोड़ एनपीए देश के बाकी बैंकों की तरह इलाहाबाद बैंक 25 हजार 600 करोड़ का कर्ज वापस लेने की तैयारी कर रहा है। इलाहाबाद बैंक के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यपालक सीएच एसएस मल्लिकार्जुन राव ने सोमवार शाम सिविल लाइंस स्थित एक होटल में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि 25 हजार 600 करोड़ एनपीए जून 2018 तक का है। इसे वापस लेने की कवायद तेज हो गई है। मुंबई की दो संपत्ति बेचकर बढ़ाएंगे पूंजी इलाहाबाद बैंक मुंबई में दो संपत्ति बेचकर अपनी पूंजी बढ़ाएगा। इलाहाबाद बैंक के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यपालक सीएच एसएस मल्लिकार्जुन राव ने बताया कि मुंबई में बैंक की दोनों जमीन खाली पड़ी है। प्रयागराज स्थित बैंक की मुख्य शाखा की जमीन बेचने के सवाल पर बैंक के सर्वोच्च अधिकारी ने कहा कि ऐसी कोई योजना नहीं है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया