सीबीआई की जंग: सुप्रीम कोर्ट से सीबीआई चीफ आलोक वर्मा को नहीं मिली राहत, जानिए सुनवाई की 10 बातें

Updated on: 14 November, 2019 05:26 AM
सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा को 24 अक्टूबर की आधी रात को छुट्टी भेजे जाने के सरकार के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट अर्जी पर शुक्रवार के दौरान वर्मा को फिलहाल राहत नहीं मिली। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने पूरे मामले पर सुनवाई की। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा- आलोक वर्मा और राकेश अस्थाना के मामले की दो हफ्ते में जांच करें सीवीसी। आइये जानते हैं सुनवाई से जुड़ी 10 बड़ी बातें- 1-शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने अपने आदेश में कहा कि सीवीसी सीबीआई के डायरेक्टर आलोक वर्मा पर लगे आरोपों की जांच दो हफ्ते के भीतर करे। यह जांच सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज एके पटनायक की अध्यक्षता में की जाएगी। 2-इससे पहले, अर्जी पर सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने 10 दिन में सीवीसी से आलोक वर्मा मामले की जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया था। लेकिन, सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के जज की तरफ से इतने कम समय में जांच संभव नहीं हो पाएगी। 3-अब दिवाली के बाद सीबीआई विवादों पर सुप्री कोर्ट में सुनवाई होगी। 4-चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा- हम जांच कर रहे हैं। हमें जो चीज देखनी है वह ये कि किस तरह का अंतरिम आदेश पारित किया गया। 5-गोगोई ने कहा कि नए सीबीआई डायरेक्टर एम. नागेश्वर राव तब तक कोई भी फैसला नहीं लेंगे जब तक सुप्रीम कोर्ट में मामले की पूरी सुनवाई नहीं हो जाती है। 6-सुप्रीम कोर्ट ने सीवीसी, केन्द्र सरकार और सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना को उनकी अर्जी पर नोटिस जारी किया। अगली सुनवाई 12 नवंबर को होगी। 7-चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि सीवीसी इस मामले की जांच इस कोर्ट के जज की निगरानी में 10 दिन के अंदर करेंगे। एम. नागेश्वर राव केवल रूटिन का काम करेंगे। 8-गोगोई ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के सामने 12 नवंबर को सील बंद लिफाफे में रिपोर्ट सौंपा जाए। 9-उधर, सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने के खिलाफ कांग्रेस प्रदर्शन कर रही है। उसके इस प्रदर्शन में तृणमूल कांग्रेस भी साथ दे रही है। कांग्रेस के प्रदर्शन को देखते हुए शुक्रवार की सुबह सीबीआई मुख्यालय के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई। 10-24 अक्टूबर की आधी रात को जारी आदेश में सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना को छुट्टी पर भेजने का आदेश दिया गया था। इसके साथ ही, एजेंसी के ज्वाइंट डायरेक्टर एम. नागेश्वर राव को अंतरिम डायरेक्टर का प्रभार सौंपा गया था।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया