यूपी: घर में मिला माता-पिता और बेटी का शव, हत्या और आत्महत्या के बीच उलझी पुलिस

Updated on: 07 December, 2019 10:03 PM
यूपी के मेरठ में लिसाड़ी गेट की समर गार्डन चौकी के पास ही जैद कॉलोनी में एक ही परिवार के 3 लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस हत्या और आत्महत्या दोनों ही एंगल पर जांच कर रही है। सूचना पर पहुंची पुलिस जब घर में दाखिल हुई तो उसे घर की चौखट पर एक दुपट्टे से युवक का शव लटका हुआ मिला, जबकि अंदर कमरे में महिला और उनकी बेटी मृत पड़े हुए थे। महिला को कोई जहरीला पदार्थ दिया गया था, जबकी लड़की की किसी तार से गला दबाकर हत्या की गई थी। जांच के लिए फॉरेंसिक टीम को बुलाया गया। एसपी सिटी समेत तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे। समर गार्डन चौकी के पास ही जैद गार्डन कॉलोनी में इस्तियाक अपनी पत्नी सायरा (32) और बेटी अनम (16) के साथ रहते थे। इस्तियाक टेंपो चलाते थे। करीब 6 महीने पहले बेटे फिरोज (18) की बीमारी के चलते मौत हो गई थी। इसी के कारण फिरोज तनाव में था। इस्तियाक का बड़ा बेटा आरिफ (20) बुआ शबाना के साथ मुरादनगर में रहता है। सोमवार सुबह करीब 5 बजे इस्तियाक के मोबाइल से एक कॉल उसकी बहन शबाना को की गई। फोन पर इस्तियाक ने बताया गया कि वह बहुत परेशान है और कहा कि सबकुछ छोड़कर जा रहा हूं। इसके बाद शबाना परेशान हो गई। शबाना ने अपने पिता अली हसन निवासी जैद कॉलोनी को सूचना दी। अली हसन अपने दामाद नवाबुद्दीन के साथ इस्तियाक के घर पहुंचे। दरवाजा अंदर से बंद मिला। खिड़की तोड़कर सभी लोग अंदर घुसे तो चौखट पर दुपट्टे से लटका हुआ इश्तियाक का शव मिला। अंदर कमरे में जाकर देखा तो सायरा और अनम भी मृत पड़े थे।सायरा के मुंह से झाग आ रहा था जबकि अनम की किसी तार या फिर रस्सी से गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। इसकी सूचना पुलिस को दी गई और इश्तियाक के शव को नीचे उतारा गया ।मौके पर एसपी सिटी रणविजय सिंह, सीओ कोतवाली दिनेश शुक्ला और लिसाड़ी गेट पुलिस पहुंची। जांच के लिए फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया। इस्तियाक के पास से पुलिस ने एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है जिसमें उसने बेटे की बीमारी टूटने की बात कही है। ये भी लिखा है कि पत्नी और बेटी के साथ जा रहा है। पुलिस मानकर चल रही है कि पत्नी और बेटी की हत्या के बाद इस्तियाक ने खुद आत्महत्या की है। हालांकि पूरा मामला उलझा हुआ है। जिस जगह पर सुसाइड किया उसे देख कर नहीं लगता कोई व्यक्ति यहां से लटक कर जान दे सकता है। ऐसे में पुलिस हत्या की जांच कर रही है। यही कारण है कि फोरेंसिक टीम बुलाई गई। ये भी आशंका है कि किसी ने परिवार के तीनों सदस्यों की हत्या करने के बाद इस्तियाक की बहन शबाना को फोन करके गुमराह किया। एक सुसाइड नोट मौके पर छोड़ दिया और मामला उलझा दिया। इस मामले में सीओ कोतवाली दिनेश शुक्ला ने बताया कि पुलिस दोनों एंगल पर जांच कर रही है। जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया