करतारपुर कॉरिडोर : नवजोत सिंह सिद्धू को फिर से मिला पाकिस्तान से न्यौता

Updated on: 16 October, 2019 06:05 AM
पंजाब सरकार के मंत्री और पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को एक बार पाकिस्तान आने के न्यौता मिला है। इसबार उन्हें करतारपुर बॉर्डर गलियारा समारोह में भाग लेने के लिए बुलाया गया है। पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने बताया कि भारत के पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू करतारपुर बॉर्डर गलियारा समारोह में भाग लेने के लिए यहां आ सकते हैं। शुक्रवार को मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। प्रधानमंत्री इमरान खान 28 नवंबर को इस सुविधा का शुभारंभ करेंगे। अगर सिद्दू पाकिस्तान जाते हैं तो यह इस साल की उनकी दूसरी यात्रा होगी। सिद्धू ने स्थानीय मीडिया को बताया कि 28 नवम्बर को होने वाले समारोह में उन्हें खान का निमंत्रण पाकर प्रसन्नता हुई है। करतारपुर गलियारे पर सिद्धू ने सुषमा को पत्र लिखकर केन्द्र की तारीफ की नवजोत सिंह सिद्धू ने केन्द्रीय मंत्री सुषमा स्वराज को पत्र लिखकर करतारपुर साहिब गलियारे के निर्माण के केन्द्र के फैसले की प्रशंसा की। सिद्धू ने पत्र में लिखा, जैसे ही हमने इस दिशा में अपने कदम बढ़ाये, हमने आस्था और क्षेत्र के लिये प्रेम का एक नया अध्याय लिखा। मैं ईश्वर से प्रार्थना और उम्मीद करता हूं कि यह कार्य निर्विवाद एवं निहित बदलाव के साथ रिश्तों में गर्माहट लायेगा। यह हमारे बीच एक सेतु बनेगा और वैमनस्यता को मिटाकर दोनों पड़ोसी देशों के लिये मरहम का काम करेगा। शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी इसके लिए केन्द्र सरकार का शुक्रिया अदा किया। सरकार ने करतारपुर गलियारा बनाने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी पाकिस्तान में ऐतिहासिक गुरुद्वारे को भारत के सीमावर्ती जिले गुरदासपुर से जोड़ने वाले प्रस्तावित करतारपुर गलियारा को बनाये जाने की सिख समुदाय की लम्बे समय से लंबित मांग आखिरकार पूरी हो सकती है क्योंकि दोनों देशों ने अपने अपने क्षेत्रों में गलियारा बनाने की घोषणा की है। एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में केन्द्रीय मंत्रिमंडल बृहस्पतिवार को पंजाब के गुरदासपुर जिले में डेरा बाबा नानक से अंतरराष्ट्रीय सीमा तक कॉरिडोर बनाने के प्रस्ताव को स्वीकृति दी है। केन्द्रीय मंत्रिमंडल के फैसले के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि भारत ने पाकिस्तान से पड़ोसी देश में करतारपुर साहिब तक कॉरिडोर के निर्माण का आग्रह किया है ताकि भारतीय श्रद्धालु करतारपुर तक जा सकें जहां सिख धर्म के संस्थापक गुरू नानक देव ने जीवन के अंतिम क्षण बिताए थे। कुछ घंटे बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पाक ने भारत को करतारपुर कॉरिडोर खोलने के फैसले से अवगत करा दिया है। विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान को पत्र भेजकर उनकी तरफ गलियारा बनाये जाने का आग्रह किया। पंजाब सरकार के सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह 26 नवम्बर को गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक में करतारपुर गलियारे की आधारशिला रखेंगे।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया