62वे परिनिर्वाण दिवस पर संविधान निर्माता को दी गई श्रद्धांजलि

Updated on: 17 October, 2019 07:06 AM
चंदौली।जिले में गुरुवार को संविधान के निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर का 62वां परिनिर्वाण दिवस मनाया गया। समाजिक सगठन मिसन सुरक्षा परिषद के बैनर तले दीनदयाल नगर के अलीनगर में एक श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें बाबासाहेब आंबेडकर की चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्घांजलि दी। वक्ताओं ने बाबा साहब के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। जिसमें मुख्य अतिथि मिशन सुरक्षा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व ओ. एस.डी मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश गंगाराम अंबेडकर ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने बाबा साहब द्वारा किया गया कार्य व भारतीय संविधान के बारे में लोगों को विस्तार से बताते अपने संबोधन में कहा बाबा साहब अंबेडकर एक विधिवेता, अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ और समाज सुधारक थे। आपने दलित समाज, मजदूर वर्ग और महिलाओं के प्रति सामाजिक भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाई और अभियान चलाए डॉ अंबेडकर के महापरिनिरवाण दिवस पर उन्‍हें श्रद्धांजलि। राष्‍ट्र के प्रति उनका योगदान बहुमूल्‍य और उल्‍लेखनीय है। वे ऐसे व्‍यक्‍ति थे जो समय से आगे चला करते थे। सामाजिक बुराईयों को दूर करने के उनके प्रयासों और उनके द्वारा शिक्षा को दिये गये महत्‍व का हम स्मरण करते हैं। डॉ अम्‍बेडकर दलितों और शोषितों की आवाज बन गये थे। उनकी सोच और आदर्श हमें समानता पर आधारित समाज बनाने में मार्ग दर्शक बने रहेंगे। आगे सभा को गुरुदयाल आर्य, रीना यादव, विजय कुमार,सुनील कुमार गौतम,शिवकुमार एडवोकेट,डॉ शिवकुमार सोनकर ने संबोधित किया। व संचालन सैयद अली अंसारी ने किया । ब्यूरो रिपोर्ट-चन्दौली
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया