गाय के कारण 'मॉब लिंचिंग' नहीं, इससे बढ़ती है किसानों की आय: गिरिराज

Updated on: 14 November, 2019 05:27 AM
केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि मॉब लिंचिंग (भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या) की घटनाएं गाय के कारण नहीं होती बल्कि गाय तो अर्थव्यवस्था का आधार है और इससे किसानों की आय बढ़ाई जा सकती है। गिरिराज सिंह ने यहां उद्यमिता विकास केंद्र का उद्घाटन करते हुए कहा कि गाय के कारण कोई हिंसा नहीं होती है। गाय भारतीय ग्रामीण अर्थव्यवस्था का आधार है। उन्होंने दावा किया कि दो गाय और दो चरखा रखने से किसी भी किसान की मासिक आय में 20 हजार रुपए का इजाफा हो सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार ने गौ वंश के संवर्धन के लिए कई योजनायें शुरु की हैं। इनमें गाय से प्राप्त उत्पादों का मूल्यवर्धन किया जाता है जिससे युवाओं को रोजगार की प्राप्ति होती है और परिवार की आय में वृद्धि होती है। उन्होंने कहा कि गाय के गोबर और गोमूत्र पर शोध किया जा रहा है। इसका इस्तेमाल पेंट और रंगाई पुताई में किया जा सकता है। इससे कीट कीटाणु मकानों में नहीं पनपते हैं। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि गाय के गोबर से कई उत्पाद बनाने के प्रयोग किये जा रहे हैं। इससे टाईल, पट्टी और संबंधित उत्पाद बनायें जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिजली ग्रिड की तर्ज पर गैस ग्रिड बनाने की बात कही है। इससे बायोगैस को भी जोड़ा जाएगा। गाय के गोबर से बायोगैस बनाने से किसानों को लाभ होगा।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया