दूध की बोतल को लेकर हुआ पति से झगड़ा, तीन बच्चों को फांसी पर लटका मां ने की खुदकुशी

Updated on: 22 April, 2019 06:29 AM
यूपी के आगरा (Agra) में नगला गढ़सानी (फतेहाबाद) में रविवार की दोपहर तीन मासूम बच्चों की फांसी लगाकर हत्या करने के बाद मां खुद भी फंदे पर लटक गई। घर के लोग खेत पर गए थे। दिल दहला देने वाली घटना के पीछे वजह गृहक्लेश बताई जा रही है। नगला गढ़सानी के किसान के प्रमोद के पास 100 बीघा खेत है। वह खुद अनपढ़ और पत्नी ममता (30) बीएससी पास है। पति-पत्नी में बनती नहीं थी। इनमें उनमें झगड़ा होता रहता था। रविवार की सुबह भी उनमें झगड़ा हुआ था। इसके बाद घर के लोग खेत में चले गए थे। ममता, बेटी जुनू (05), बेटा रंजीत (03) व अजीत (04 माह) घर पर थे। सास सूरजमुखी और ननद हसीना ने खेत से लौटने के बाद जब दरवाजा खटखटाया तो वह नहीं खुला। उन्होंने ग्रामीणों की मदद से दरवाजे तोड़े। अंदर पहुंचे तो सबके होश उड़ गए। आंगन में साड़ी के तीन फंदों पर तीनों बच्चों के शव लटके थे। कुंडे पर ममता का शव लटका था। ग्रामीणों ने तीनों बच्चों को नीचे उतार लिया। उनकी मौत हो चुकी थी। इसके बाद सारा परिवार फरार हो गया। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस पहुंची और शवों को कब्जे में लिया। सूचना पर आए मायके वालों ने हत्या का आरोप लगाया। ग्रामीणों का कहना है कि बच्चे की दूध की बॉटल और उसकी निप्पल लाने की कहने पर पति-पत्नी में झगड़ा हुआ था। भागने से पहले सास ने यह ग्रामीणों को बताया था। ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि घटना के बाद सास और ननद मौके पर ही थीं। पुलिस को देखते ही भाग गईं। बता रहीं थीं कि दोपहर 12 बजे ममता और प्रमोद में झगड़ा हुआ था। दोनों में आए दिन झगड़ा होता था इसलिए घरवालों ने ज्यादा गंभीरता से नहीं लिया। बहू उल्टा सीधा बोल रही थी। इस कारण सास और ननद भी खेत पर चले गए। प्रमोद अपने पिता के साथ खेत पर गया था। साढ़े तीन बजे लौटे तो दरवाजा नहीं खुला। सूचना पर एसएसपी अमित पाठक और एसपी पूर्वी नित्यानंद राय मौके पर पहुंच गए थे।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया