देवरिया जेल पिटाई मामला: पुलिस ने जुटाई सीसी फुटेज, अतीक अहमद समेत पांच लोगों के खिलाफ 'वारंट बी'

Updated on: 18 July, 2019 08:52 AM
आलमबाग के प्रॉपर्टी डीलर मोहित जायसवाल को अगवा कर देवरिया जेल में पीटने के मामले में पुलिस ने पूर्व सांसद अतीक अहमद समेत पांच लोगों के खिलाफ 'वारंट बी' हासिल किया है। देवरिया जेल में छानबीन करने गई पुलिस टीम ने सीसीटीवी फुटेज खंगाली जिसमें पीड़ित जेल में आते-जाते हुए दिखा। इस दौरान उसके साथ अतीक के गुर्गे भी थे। पीड़ित ने जेल में बंद उन अपराधियों को भी पहचाना जिन्होंने अतीक के कहने पर उसे पीटा था। देवरिया जेल से लौटी पुलिस टीम ने मामले को सही पाते हुए आरोपियों के खिलाफ तलबी नोटिस प्राप्त की है। सीओ कृष्णानगर लाल प्रताप सिंह ने बताया कि मोहित जायसवाल ने 29 दिसम्बर को मामले की रिपोर्ट कृष्णानगर कोतवाली में दर्ज कराई थी। मोहित ने बताया था कि अतीक अहमद ने उसे लखनऊ से अगवा करवाके देवरिया जेल बुलवाया। जहां उसके साथ मारपीट करते हुए संपत्ति लिखवा ली और गाड़ी छीन ली थी। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों सुलतानपुर निवासी गुलाम मुइनुद्दीन और प्रतापगढ़ निवासी इरफान को गिरफ्तार करके फारच्यूनर गाड़ी बरामद की थी। कृष्णानगर पुलिस की एक टीम जांच के लिए देवरिया जेल भी गई थी। पुलिस ने जेल के सीसी कैमरे खंगालने के साथ पीड़ित मोहित जायसवाल के सामने बंदियों की परेड करवाई। इसमें उसने मारपीट करने वाले अतीक के गुर्गो को पहचान लिया। इस आधार पर पुलिस ने देवरिया जेल में बंद मुख्तार, आलमगीर, बलाकात अली व दयानन्द को पहचान लिया। पुलिस ने अतीक अहमद समेत इन चारों लोगों के खिलाफ तलबी नोटिस हासिल किया है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया