पीएम मोदी बोले- ऐसा कुछ नहीं करेंगे जिससे गरीबों का हक छिने

Updated on: 21 November, 2019 04:53 AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकारी नौकरियों एवं शैक्षणिक संस्थानों में सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण के प्रावधान वाले विधेयक का बुधवार को बचाव करते हुए कहा कि हम ऐसा कुछ नहीं करेंगे जिससे गरीबों का हक छिन जाए। मोदी ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा में इस विधेयक का पारित होना उन लोगों के लिए करारा जवाब है जो इस बारे में झूठ फैला रहे हैं। मोदी ने लोकसभा में इस विधेयक के पारित होने को ऐतिहासिक कदम करार दिया। उन्होंने कहा कि इसका लक्ष्य हाशिए के लोगों को ऊपर उठाना है। उन्होंने कहा कि इससे इस बात का भी पता चलता है कि सरकार उन लोगों को प्राथमिकता देने के लिये प्रतिबद्ध है जिन्हें मदद की सबसे ज्यादा जरूरत है। उन्होंने कहा कि इस विधेयक से दलितों तथा जनजातीय समुदायों समेत पिछड़े वर्गों के अधिकारों पर कोई असर नहीं पड़ेगा। मोदी ने इस मौके पर कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, कांग्रेस बताए कि उसके इस अभियान के पीछे की कहानी क्या है। प्रधानमंत्री ने संकेत दिया कि अगुस्ता वेस्टलैंट वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले के मामले में गिरफ्तार कथित बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल राफेल की प्रतिद्वंद्वी कंपनी के लिए काम कर रहा था। उन्होंने कहा, ‘पूर्ववर्ती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार के दौरान बिचौलिया संस्कृति प्रणाली का हिस्सा थी। उन्होंने गरीबों का हक मारा और देश कर सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया। मोदी ने कहा, ‘उसने (मिशेल ने) हैरान करने वाले खुलासे किए। मीडिया की खबरों के अनुसार, वह न सिर्फ हेलीकॉप्टर सौदे में शामिल था बल्कि पिछली सरकार के दौरान वह विमानों के सौदों में भी संलिप्त था।’ जैसे हमने गरीब सवर्णों के लिए आरक्षण का ऐलान किया, वैसे ही उच्च शिक्षा की सीटों में 10 प्रतिशत की वृद्धि कर दी जाएगी। हम ऐसा कोई काम नहीं करेंगे, जिससे गरीबों का हक छिने। हमें झूठ फैलाने वालों को परास्त करा है। - नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया