ममता vs सीबीआई मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का धरना जारी, सुप्रीम कोर्ट में अपील करेगी सीबीआई

Updated on: 19 November, 2019 04:24 AM
सारदा चिटफंड घोटाले के सिलसिले में कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से रविवार को पूछताछ करने पहुंची सीबीआई की टीम से टकराव के बाद राजनीतिक पारा अचानक चढ़ गया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र पर उनका तख्ता पलट करने की कोशिश करने का आरोप लगाया और विरोध में कोलकाता के मेट्रो चैनल के नजदीक पर धरने पर बैठ गईं। कोलकाता पुलिस आयुक्त के आवास के सामने मीडिया को संबोधित करते हुए ममता ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के निर्देश पर सीबीआई विरोधियों को निशाना बना रही है। उन्होंने कहा कि 19 जनवरी की रैली के बाद केंद्र सरकार पश्चिम बंगाल सरकार का तख्ता पलट करने की कोशिश कर रही हैं। उन्होंने सीबीआई की कार्रवाई को भी बदले की कार्रवाई बताया। मुख्यमंत्री ने कहा, सत्ता में आने के बाद हमारी सरकार ने चिटफंड के मालिकों को गिरफ्तार किया। लेकिन केंद्र सरकार देश की संस्थाओं को खंडित कर रही है। उन्होंने सवाल किया, सीबीआई बिना नोटिस कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के आवास पर कैसे पहुंच सकती है? ममता ने कहा कि हम केंद्र के आगे नहीं झुकेंगे। हमें हमारे पुलिस पर गर्व है। ममता ने कार्रवाई के समय पर सवाल उठाते हुए कहा, चिटफंड घोटाले का खुलासा हुए पांच साल बीत गए हैं। ऐसे में लोकसभा चुनाव से पहले ही यह कार्रवाई की हुई? उन्होंने कहा, मैं केंद्र के खिलाफ संविधान को बचाने के लिए मध्य कोलकाता में धरना दूंगी। इसके बाद वह मेट्रो चैनल के नजदीक धरने पर बैठ गईं। धरना स्थल से ही चलेगी सरकार सूत्रों की मानें तो ममता धरना स्थल से ही सरकार का कामकाज देखेंगी। उन्होंने कहा कि मेट्रो चैनल से ही सोमवार को ममता सभी प्रशासनिक कार्य करेंगी। इनमें बजट संबंधी कैबिनेट की बैठक भी शामिल है। इसके लिए अधिकारी मेट्रो चैनल के पास अस्थायी कार्यालय बना रहे हैं। संसद में उठाएंगे मुद्दा : ब्रायन पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि उनकी पार्टी सोमवार को यह मुद्दा संसद में भी उठाएगी। उन्होंने कहा, भाजपा संवैधानिक तख्तापलट की योजना बना रही है। 40 सीबीआई अधिकारी ने कोलकाता पुलिस आयुक्त के घर को घेर लिया। संस्थाओ का नुकसान अक्षुण्ण है। हम इस मुद्दे पर सभी दलों से चर्चा कर रहे हैं, जो लोकतंत्र को बचाना चाहते हैं। राज्यसभा सांसद ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष तृणमूल कांग्रेस से लड़ नहीं सकते। पश्चिम बंगाल सरकार वापस ले चुकी है आम सहमति पश्चिम बंगाल सरकार पिछले साल नवंबर में सीबीआई जांच के लिए राज्य की ‘आम सहमति’वापस ले चुकी है। राज्य सरकार ने कहा कि केंद्रीय एजेंसी के भीतर हुए उठापटक के बाद उसकी विश्वनीयत पर सवाल उठ रहे हैं। हमारा आरोप है कि केंद्र सीबीआई का विपक्षी पार्टियों पर निशाना बनाने के लिए अनुचित उपयोग कर रहा है। गौरतलब है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) का संचालन एनआईए एक्ट के तहत होता है। इसके तहत एनआईए का अधिकार क्षेत्र पूरा देश है। इसके विपरीत सीबीआई दिल्ली विशेष पुलिस स्थापना एक्ट के तहत संचालित होती है, जिसमें जांच के लिए राज्यों की सहमति आवश्यक है। आज सुप्रीम कोर्ट जाएगी सीबीआई पश्चिम बंगाल में जारी हाईवोल्टेड ड्रामे की बीच सीबीआई सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने जा रही है। जांच एजेंसी के अंतरिम निदेशन नागेश्वर राव ने कहा है कि वह सोमवार को इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का रुख करेंगे। सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार भी इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी में है। केंद्र सरकार कोर्ट को बताएगी कि सुप्रीम कोर्ट ने ही चिट फंड घोटाले की जांच के आदेश दिए थे। सीबीआई अधिकारियों को हिरासत में लेने से साफ है कि राज्य सरकार कानून के प्रति लापरवाह है। सीबीआई बनाम कोलकाता पुलिस लाइव अपडेट्स -बंगाल के राज्यपाल ने मुख्य सचिव, गृह सचिव और डीजीपी को राजभवन में बुलाया है। इससे पहले कोलकाता में शीर्ष सीबीआई अधिकारियों ने राज्यपाल से मिलने की अनुमति मांगी थी -सोमवार को सुप्रीम कोर्ट जाएगी CBI, कहा- पश्चिम बंगाल पुलिस नहीं कर रही सहयोग -ममता बनर्जी संविधान बचाओ धरने पर बैठीं, धरना कोलकाता के मेट्रो चैनल के पास चल रहा है। ममता के साथ कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार भी मौजूद हैं। -सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव ने कहा-हमलोग सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर चिट फंट केस की जांच कर रहे हैं। वर्तमान में कोलकाता के पुलिस कमिश्नर रहे राजीव कुमार की अध्यक्षता में कोर्ट के निर्देश से पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा एक SIT का गठन किया गया था। उन्होंने सभी सबूतों को जब्त कर लिया है, सभी दस्तावेजों को भी जब्त कर लिया है। वे सभी दस्तावेजों को सौंपने में हमारा सहयोग नहीं कर रहे हैं और बहुत सारे सबूत या तो नष्ट हो गए हैं या गायब हो गए हैं। - यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दिया ममता को समर्थन। उन्होंने ट्विट किया-भाजपा सरकार की उत्पीड़नकारी नीतियों और CBI के खुलेआम राजनीतिक दुरुपयोग के कारण जिस तरह देश, संविधान और जनता की आजादी खतरे में है, उसके खिलाफ ममता बनर्जी जी के धरने का हम पूर्ण समर्थन करते हैं। आज देश भर का विपक्ष और जनता अगले चुनाव में भाजपा को हराने के लिए एकजुट है। -सीबीआई ने इस मसले में राज्यपाल के हस्तक्षेप की मांग की है। समाचार एजेंसी वार्ता के अनुसार राज्य पुलिस और सीबीआई अधिकारियों के बीच हाथापाई भी हुई थी। -कोलकाता सीबीआई मुख्यालय के बाहर सीआरपीएफ तैनात - कोलकाता में सीबीआई मुख्यालय के बाहर पुलिस तैनात - दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विट किया-'मोदीजी ने लोकतंत्र और संघीय ढांचे का पूरी तरह मखौल उड़ाया है। कुछ साल पहले, मोदीजी ने अर्धसैनिक बलों को भेजकर दिल्ली के ऐंटी-करप्शन ब्रांच पर कब्जा किया था। अब यह हो रहा है। मोदी-शाह की जोड़ी भारत और इसके लोकतंत्र के लिए खतरा है। हम इस कार्रवाई की निंदा करते हैं।' -सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव ने कहा कि हम अपने कानूनी अफसरों से सलाह ले रहे हैं। जो भी वो कहेंगे उस हिसाब से कदम उठाएंगे। -भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत शारदा चिटफंड घोटाले में केन्द्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) ने कोलकाता पुलिस आयुक्त से पूछताछ के लिए छापा मारा है। -इस बीच ममता बनर्जी पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के आवास पर पहुंची। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पश्चिम बंगाल में 'तख्तापलट की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि तृणमूल कांग्रेस ने यहां विपक्ष की रैली का आयोजन किया था। -कोलकाता पुलिस कमिश्नर के बाहर स्थानीय पुलिस पहुंची। उसने पांच सीबीआई अधिकारियों को हिरासत में लिया और थाने ले गए। -सीबीआई की एक टीम कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंची। गेट के बाहर तैनात संतरियों ने सीबीआई टीम को रोक दिया। पत्रकार वार्ता की खास बातें : - कोलकाता पुलिस प्रमुख के खिलाफ सीबीआई की कार्रवाई राजनीतिक प्रतिशोध वाली है। इस समय इमरजेंसी से भी बुरे हालात हैं। मोदी सरकार के खिलाफ धरने पर बैठूंगी - भारतीय जनता पार्टी बंगाल पर अत्याचार कर रही है। वह जबरन बंगाल को नष्ट करने की कोशिश कर रही है क्योंकि मैंने ब्रिगेड रैली की थी। - मुझे यह कहते हुए गर्व है कि मेरी जिम्मेदारी फोर्स को संरक्षण देना है। बिना सूचना के आप कोलकाता पुलिस कमिश्नर के घर आ रहे हैं। हम सीबीआई को गिरफ्तार कर सकते थे लेकिन हमने छोड़ दिया
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया