पुलवामा हमले की जगह से 15 किलोमीटर दूर एनकाउंटर में जैश के दो आतंकी ढेर

Updated on: 17 November, 2019 09:06 AM
जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में सोमवार तड़के हुए एनकाउंटर में सेना ने जैश-ए-मोहम्मद के एक कमांडर सहित दो आतंकवादियों को ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है कि सेना ने दो आतंकियों को जहां ढेर किया है वह सीआरपीएफ टीम पर हमले वाले घटनास्थल से 15 किलोमीटर दूर है। वार्ता के अनुसार, मुठभेड़ में मारे गये दोनों आतंकवादी पुलवामा जिले में अवंतिपोरा के समीप श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर फियादीन हमले की घटना में संलिप्त थे। गत गुरुवार को हुए इस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 44 जवान शहीद हो गये थे। सोमवार सुबह सुरक्षा बलों के घेराबंदी और तलाश अभियान के दौरान मुठभेड़ में सेना के एक मेजर समेत चार जवान शहीद हो गए और एक नागरिक की मौत हो गई। कैसे हुआ ऑपरेशन आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि खुफिया सूचना के आधार पर राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर),जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने पुलवामा के पिंगलन गांव में संयुक्त अभियान शुरू किया। सुरक्षाबलों के जवान जब गांव से बाहर निकलने के रास्ते बंद कर रहे थे, तभी वहां छुपे आतंकवादियों ने उन पर अंधाधुंध गोलियां चलाना शुरू कर दी। गोलीबारी में मेजर डी एस डोंडियाल तथा सैनिक सेवा राम, अजय कुमार और हरि सिंह घायल हो गये। घायलावस्था में उन्हें तत्काल 92 बेस अस्पताल ले जाया गया, जहां बाद में उनकी मौत हो गयी। एक अन्य घायल जवान गुलजार मोहम्मद का अस्पताल में भर्ती है। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल के समीप एक नागरिक मुश्ताक अहमद की भी गोली लगने से मौत हो गई। सूत्रों ने बताया कि आतंकवादियों के गांव से बाहर निकलने के सभी रास्ते बंद कर दिए गए हैं। मुठभेड़ स्थल के समीप के घरों में रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है। अतिरिक्त सुरक्षाबलों को मौके पर भेजा गया है। अंतिम सूचना मिलने तक दोनों ओर से लगातार गोलीबारी जारी है। इलाके में दो से तीन आतंकवादी छुपे हुए हैं। किसी भी प्रदर्शन को टालने के लिए आसपास के गांवों में अतिरिक्त सुरक्षाबलों और पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया