हेलिकॉप्टर क्रैश: राजकीय सम्मान के साथ शहीद विशाल पांडेय को दी गई अंतिम विदाई

Updated on: 20 March, 2019 11:55 PM
जम्मू-कश्मीर के बड़गाम इलाके में बुधवार की सुबह क्रैश हुए एमआई-17 हेलिकॉप्टर में सवार काशी का एक लाल विशाल पांडेय भी शहीद हो गया। सीमा पर हवाई सुरक्षा के लिए हेलिकॉप्टर ने श्रीनगर एयरबेस से उड़ान भरी थी। बुधवार शाम करीब चार बजे एयरबेस से उनके परिजन को यह दु:खद सूचना मिली। गुरुवार देर रात शहीद विशाल का पार्थिव शरीर वाराणसी लाया गया और हरिश्चंद्र घाट पर राजकीय सम्मान के साथ अंत्येष्टि की गई। वाराणसी से करीब दस किमी दूर रोहनियां थाना क्षेत्र कुरुहुआ गांव के मूल निवासी विजय शंकर पांडेय के बेटे विशाल पांडेय वर्ष 2005 में एयरफोर्स में भर्ती हुए थे। वर्ष 2009 में शादी होने के बाद विशाल ने चौकाघाट स्थित यादव बस्ती में मकान खरीदा था। विशाल के माता-पिता परिवार के अन्य सदस्यों के साथ नए आवास में रहते है, जबकि विशाल पत्नी माधवी और दो बच्चों के साथ श्रीनगर में रहते थे। उनके शहीद होने की सूचना मिलने के बाद उनके घर पर गुरुवार सुबह से शुभचितंकों और रिश्तेदारों का तांता लग गया। दोपहर एक बजे घर पहुंचे एयरफोर्स के अफसरों ने परिजन को शाम तक शहीद के पार्थिव शरीर को विशेष विमान से बाबतपुर लाए जाने की सूचना दी। इस दौरान मेयर मृदुला जायसवाल भी शहीद के घर पहुंचीं और शोकसंतप्त परिवार को ढांढस बंधाया। इससे पहले सुबह प्रभारी जिलाधिकारी सीडीओ, एडीएम सिटी, एसपी सिटी शहीद के घर पहुंचे। पिता ने बताया कि चार दिसंबर 2017 को बड़ी बहन की शादी हुई थी तभी विशाल घर आए थे। विशाल को सात साल का बेटा विशेष, पांच साल की बेटी धारा हैं।
View More