एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने सीमा पर गोला-बारूद जमा किया

Updated on: 20 November, 2019 03:22 AM
एयर स्ट्राइक के बाद हवा में तनाव कम होने के बावजूद जमीन पर भारत - पाकिस्तान के बीच जबरदस्त तनाव बना हुआ है। नौशेरा सेक्टर, राजौरी व पुंछ के इलाके में पाकिस्तान की ओर भारी हथियार व गोला बारुद के जमावड़े की खबर भारतीय एजेंसियों को है। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक आर्टिलरी का प्रयोग कर रही पाक सेना को करीब एक लाख आर्टिलरी शेल उपलब्ध कराए गए हैं। हालांकि शनिवार रात से सीमा पर गोलीबारी में कमी आई है। लेकिन एजेंसियों का मानना है कि जिस तरह के हथियार व गोलाबारूद पाक सेना ने अलग अलग सेक्टर में एकत्र किए हैं उससे उनकी मंशा संदिग्ध बनी हुई है। दोमुंही नीति पर काम कर रहा पाक सूत्रों ने कहा कि वायुसेना द्वारा आतंकी ठिकानों पर की गई एअर स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान दोमुंही नीति पर काम कर रहा है। ऊपरी तौर पर भारत से बातचीत की पेशकश और शांति की बात हो रही है। लेकिन सीमा पर जबरदस्त जमावड़ा बढ़ाया गया है। पाक सेना की ओर से लगातार आर्टिलरी का प्रयोग किया जा रहा है। जम्मू व पंजाब के इलाकों से घुसपैठ की कोशिश भी हो रही है। पूरी ताकत से जवाब की रणनीति सूत्रों ने कहा कि हमारी सेना व बीएसएफ पूरी तरह से सतर्क है। जवाबी रणनीति के तहत भारी हथियारों का जवाब उसी लहजे में ज्यादा ताकत से देने को कहा गया है। सूत्रों ने कहा कि उच्च स्तर पर सुरक्षा का आकलन करने के बाद यह तय किया गया है कि अभी पूरी तरह से सतर्क रहने की स्थिति है। क्योंकि पाकिस्तान की ओर से कभी भी उकसावे की कार्रवाई हो सकती है। स्ट्राइक के बाद 50 से ज्यादा बार संघर्ष विराम उल्लंघन गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना की एअर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की ओर से 50 से ज्यादा बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया है। सीमा पर नागरिक इलाकों को निशाना बनाया गया है। हालांकि भारत की ओर से मुंहतोड़ जवाब दिया गया। पाकिस्तान को काफी नुकसान भी उठाना पड़ा है। लेकिन सीमावर्ती इलाकों में रह रहे लोगों में दहशत बरकरार है। सुरक्षा स्थिति का उच्च स्तर पर आकलन उच्च स्तर पर सुरक्षा स्थिति का आकलन करने के बाद सीमा पर और घाटी में पूरी तरह से सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं। सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि दोनों स्तरों पर खतरा बना हुआ हे। पाकिस्तान सेना घुसपैठियों को मदद के लिए कभी भी दोबारा फायरिंग कर सकती है। घाटी में भी आतंकियों द्वारा सुरक्षा बलों को निशाना बनाने की योजना के बारे में एजेंसियों को जानकारी मिल रही है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया